बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News -कॉलेज का फीस जमा करने निकली छात्रा का सड़क किनारे मिला शव बेटियों की सुरक्षा पर उठे सवाल

सीतामढ़ी में कॉलेज के लिए निकली छात्रा का शव मोहनपुर स्थित एनएच-104 पर पुल के नीचे मिलने से सनसनी फैल गई। दुष्कर्म की कोशिश के बाद उसकी हत्या का अंदेशा है। इसमें दो लड़कियों व दो लड़कों पर संलिप्ता का संदेह जताया जा रहा है।

520

पटना Live डेस्क। बिहार में अपराध रुकने का नाम नही ले रहा है। इसी बीच सीतामढ़ी के नगर थाना क्षेत्र के बरियारपुर इलाके में सड़क किनारे युवती का शव मिला। घटना की जानकारी मिलते ही घटना स्थल लोगों की भीड़ ईकट्ठा हो गई। वही मृतका की पहचान टंडसपुर निवासी मंजू के रूप में कई गई।मामले की जानकारी मिलते ही युवती के परिजन मौके पर पहुंचे।घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं, मामले की छानबीन में जुट गई। लेकिन इस खूंरेजी व हत्याकांड से एक बार फिर सूबे मे लड़कियों की सुरक्षा पर बड़ा सवाल खड़ा हो गया है।

सड़क किनारे मिला युवती का शव

दरअसल, घर से कॉलेज के लिए निकली बीए पार्ट वन की एक छात्रा की निर्ममता से हत्या कर दी गई। गुरुवार को पूर्वाह्न 11 बजे यह छात्रा कॉलेज जाने की बात कहकर घर से निकली हुई थी। शुक्रवार सुबह नगर थाना क्षेत्र के बरियारपुर में सड़क किनारे उसका शव बरामद होने के बाद सनसनी फैल गई। पुलिस के अनुसार,गल रेतकर उसकी हत्या की गई और शव को बोरी में बंद कर सड़क किनारे फेंक दिया गया। उसके पूरे शरीर पर खून के छींटे पाए गए हैं। पुलिस को ऐसी आशंका है कि दुष्कर्म या दुष्कर्म की कोशिश के बाद इस तरह से उसकी हत्या की गई हो। पुलिस ने शव को बरामद करने के साथ पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

 

दो लड़कियों व दो लड़कों पर शंका

                   इस मामले में छात्रा के पिता ने नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें छात्रा की दो सहेलियों के साथ दो लड़कों की संलिप्तता का अंदेशा जताया है। छात्रा के पिता ने पुलिस को दिए बयान में गांव की ही उसकी दो सहेलियों के अलावा दो लड़कों को आरोपित किया है, जिन्हेंं घर वाले नहीं जानते हैंं, लेकिन उन दोनों के मोबाइल नंबर पुलिस को दिए हैं। एक कोई पिंटू कुमार नामक लड़का बाजपट्टी का रहने वाला है। छात्रा के पिता का यह भी कहना हे कि बाजपट्टी का वह लड़का उनकी पुत्री के मोबाइल पर बात करता था जिसके बारे में छात्रा की उन दोनों सहेलियों को भी इस बात की जानकारी थी।

घर से कॉलेज गई जिंदा लौटी कफन में लिपटी

                      नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहनपुर स्थित एनएच-104 पर पुल के नीचे उस छात्रा का शव बरामद हुआ। बंद बोरे में उसका शव पाया गया। घटना की खबर जंगल की आग की तरह फैल गई। कुछ ही देर में सैंकडों की संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। पुल छोटा होने के कारण करीब तीन घंटे तक जाम की स्थिति बनी रही। घटना की सूचना पर नगर थाना प्रभारी विकाश कुमार राय दलबल के साथ पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिय सदर अस्पताल भेजा। छात्रा के पिता का कहना है कि वह बीए पार्ट वन की छात्रा थी। गुरुवार सुबह 11 बजे घर से साइकिल लेकर कॉलेज में एडमिशन फी जमा करने के लिए गई थी। रात तक वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी सहेलियों व कॉलेज तक खोजबीन की गई। कही से कोई पता नहीं चल पाया। शुक्रवार सुबह खबर मिली कि मोहनपुर पुल के पास एक लड़की का शव मिला है तो हम लोग दौड़े-भागे पहुंचे। स्वजनों ने शव की शिनाख्त की। इसके बाद नगर थाना पुलिस पहुंची और छानबीन शुरू हुई।

कॉलेज छात्रा की लाश मिलने से जहाँ इलाके में तमाम तरह की चर्चाओं का बाज़ार गर्म है। वही बेटी पढ़ाओ और बेटी बचाओ के उद्देश्य वाली सूबे की सुशासन सरकार पर अब मंजू की हत्या के बाद महिला सुरक्षा को लेकर तमाम सवाल उठ रहे है।

Comments are closed.