बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बिहार की जनता को बड़ी सौगात देने जा रहे हैं सीएम नीतीश, इन जिलों को मिलेगा फायदा

635

पटना Live डेस्क। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज बिहार की जनता को बड़ी सौगात देने जा रहे हैं। जिसका सीधा फायदा कई जिलों को मिलने वाला है। राज्य के तीन राज्य उच्च पथों व एक बाईपास का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 25 अगस्त को करेंगे। वीडियो कांफ्रेंसिंग से होने वाले इस लोकार्पण समारोह की तैयारी बिहार राज्य पथ विकास निगम ने कर ली है। इन सड़कों के होने से इलाके विशेष के लोगों का आवागमन आसान होगा।

Bihar ke cm nitish kumar ne lia Apne dream project ke nirman karya ka jayja  Patna ring road project ganga nadi par 6 lane bridge ka jana haal : पटना  में गंगा

उद्घाटित होने वाली सड़कों में बिहिया-जगदीशपुर पीरो-बिहटा राज्य उच्च पथ संख्या-102 है। 54।519 किमी लंबी इस सड़क की लागत 504।208 करोड़ है। दूसरी सड़क अमरपुर-अकबरनगर एसएच 85 है। कुल 29।3 किमी लंबी इस सड़क की लागत 220।719 करोड़ है। तीसरी सड़क घोघा-पंजवारा एसएच 84 है। इसका निर्माण कार्य 332 करोड़ की लागत से किया गया है। इसकी लंबाई 41।11 किमी है। चौथी सड़क बिहारीगंज बाईपास है जो उदाकिशुनगंज-मधेपुरा एवं सुपौल जिलों के लिए अत्यंत लाभकारी है। 4।55 किमी लंबी यह बाईपास 10 मीटर चौड़ी है।

Patna: - Bihar Chief Minister Nitish Kumar with Deputy CM Tarkishore Prasad  visit smart city projects in Patna #Gallery - Social News XYZ

पटना में पहला तो बिहार का दूसरा डबल डेकर एलिवेटेड रोड का शिलान्यास 31 अगस्त को होगा। अशोक राजपथ के करगिल चौक पर इसका शिलान्यास कार्यक्रम होगा। पथ निर्माण के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने कहा कि राजधानी का पहला और बिहार का दूसरा डबल डेकर फ्लाईओवर का निर्माण कार्य शिलान्यास के साथ ही शुरू हो जाएगा। काम शुरू होने के 3 साल के भीतर निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।
करगिल चौक से पीएमसीएच होते हुए साइंस कॉलेज तक बनने वाले डबल डेकर फ्लाईओवर के एक तल्ले पर आने तो दूसरे तल्ले से जाने की व्यवस्था रहेगी। फ्लाईओवर में तीन जंक्शन बनाए जाएंगे जो करगिल चौक, कृष्णा घाट व एनआईटी मोड़ के समीप होगा। जबकि इसकी संपर्कता करगिल चौक, पीएमसीएच, कृष्णाघाट, एनआईटी, लॉ कॉलेज व महेंद्रू से होगी।
बता दें कि छपरा के बाद बिहार में यह दूसरा डबल डेकर फ्लाईओवर होगा। करगिल चौक से साइंस कॉलेज तक बनने वाले फ्लाईओवर की लंबाई 2।198 किमी है। इसकी लागत 422 करोड़ है जिसे तीन साल में बनाने का लक्ष्य है।

Comments are closed.