BiG Breaking(वीडियो) पटना बायपास पर STF के ASI को बाइक सहित कई मीटर तक हाइवा ने घसीटा, हुई दर्दनाक मौत, स्थानीय लोगो ने किया बायपास जाम, कर रहे है हंगामा

4280

शशि यादव, ब्यूरो कोर्डिनेटर, पटना

पटना Live डेस्क। पटना में सड़क दुर्घटना में आकस्मिक मौत का शिकार हुए शख्स की पहचान एसटीएफ (Specia0l Task force) ASI की पहचान अभय कुमार के तौर पर हुई है। जो गोलघर के समीप स्थित स्पेशल टास्क फोर्स के दफ्तर जिसे एकता भवन कहते है में कार्यरत थे। मूल रूप से गया के रहने वाले अभय कुमार रामकृष्ण नगर में परिवार के साथ में रहते थे। अभय घटना के वक्त बुलेट मोटरसाइकिल पर सवार होकर एक मित्र से मिलकर अपने घर लौट रहे थे, तभी  बायपास पर बेहद तेज गति से आ रहे हाइवा ने टक्कर मार दी। टक्कर के दौरान अभय बाइक सहित हाइवा के इंजन में फस गए और टक्कर के बाद बदहवाश ड्राइवर उन्हें कई मीटर तक सड़क पर घसीटता हुए ले गया। लोगो फौरन बुरी तरह जख्मी को हाइवा से निकालकर पास के फोर्ड हॉस्पिटल हॉस्पिटल पहुचाया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अभय की मौत की खबर मिलते हो कोहराम मच गया। रोते बिलखते परिजन हॉस्पिटल पहुच गए।

वही, घटना के बाद से आक्रोशित लोगो ने बायपास जाम कर दिया। आक्रोशित भीड़ ने सड़क पर खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ शुरू कर दी । जिसके बाद हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा पर भीड़ के आक्रामक होने के बाद पुलिस भाग खड़ी हुई। वही बायपास पूरी तरह जाम हो गया।

बेतहाशा स्पीड में दौड़ रहे हाइवा की चपेट में आकर बिहार एसटीएफ के ASI अभय कुमार की मौत हो गई । मूल रूप से गया के रहने वाले अभय विशेष कार्य बल में एकता भवन में कार्यरत थे। दिवंगत अभय रामकृष्ण नगर थाना के समीप घर बनाकर परिवार के साथ रहते थे। घटना के वक्त वो अपने एक मित्र से मिलकर अपने घर लौट रहे थे। अभय अपने पीछे 2 बच्चो और पत्नी को छोड़ गए है।

अभय कुमार की असमय मौत से पूरा एसटीएफ महक़मा सकते कि हालात में है।बेहद मिलनसार स्वभाव के अभय अपने यूनिट और सहकर्मियों के बीच बेहद लोकप्रिय थे।मिली जानकारी के अनुसार 2 महीने पहले ही अभय कुमार ने दुुबारे STF में योगदान दिया था। दरअसल पूर्व में भी काफी लंबे समय तक विशेष कार्य बल में रहे अभय कुमार ने कुछ वक्त CDI में भी योगदान दिया था। तदुपरांत प्रमोट होकर ASI बनकर सीतामढ़ी जिला पुलिस मे रहने के बाद  एसटीएफ लौटे थे। अभय कुमार की असमय मौत से पूरा एसटीएफ महक़मा सकते कि हालात में है। बेहद मिलनसार स्वभाव के अभय अपने यूनिट और सहकर्मियों के बीच बेहद लोकप्रिय थे।

 

Loading...