BiG News – बेगूसराय में थाने में युवक ने लगाई फांसी, प्रेम प्रसंग में हुआ था गिरफ्तार,लाइन हाजिर किये गए थानेदार

117

पटना Live डेस्क। कोरोना के कहर के बीच बिहार पुलिस का खौफनाक चेहरा एक बार फिर दिखाई दिया है। सूबे के बेगूसराय के प्रेम-प्रसंग मामले में दिल्ली से गिरफ्तार प्रेमी ने थाना परिसर में खुदकुशी कर ली है। वहीं थाना में आरोपी के फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना पर सदर डीएसपी और कई थाने की पुलिस वीरपुर थाना पहुंचकर मामले की जांच में जुट गयी। घटना बीरपुर थाना की है।

बेगूसराय के एसपी अवकाश कुमार ने कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में वीरपुर थानाध्यक्ष अमर कुमार को लाइन हाजिर कर दिया है। दरअसल आपको बता दें मंगलवार बेगूसराय के वीरपुर थाना थाना में प्रेम प्रसंग के आरोप में गिरफ्तार एक युवक विक्रम पोद्दार ने हिरासत में कथित तौर पर खुदकुशी कर ली। पुलिस हिरासत में आत्महत्या के मामले ने पूरे जिला प्रशासन में सनसनी मचा दी है।

क्या था पूरा मामला जानिए

वीरपुर थाना के पर्रा पंचायत के दुखा पोद्दार के 21 वर्षीय पुत्र विक्रम पोद्दार के ऊपर 23 जनवरी को एक नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर भगा ले जाने का आरोप लगा कर विक्रम के खिलाफ लड़की के परिजनों ने वीरपुर थाना में 23 जनवरी को ही मामला दर्ज किया।

घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि विक्रम पोद्दार का गांव के ही एक लड़की के साथ प्रेम प्रसंग था। कुछ दिनों पूर्व दोनों लड़का-लड़की भागकर दिल्ली चले गए थे। जिसके बाद वीरपुर थाना की पुलिस ने प्रेमी जोडे को खोजबीन शुरू किया तो मोबाइल लोकेशन के आधार पर 23 मार्च को वीरपुर थाना पुलिस दिल्ली से प्रेमी जोड़े को गिरफ्तार कर थाना लाई थी। 24 मार्च को छात्रा का 164 का बयान बेगूसराय न्यायालय में दर्ज कराया गया जहां उसने जबरन अपहरण करने का बयान दिया। लड़की ने प्रेम प्रसंग वाली बात से इंकार कर दिया था। जिसके बाद युवक को पुलिस ने हिरासत में लेकर थाना में बंद कर दिया।

इधर थानाध्यक्ष अमर कुमार लॉक डाउन को लेकर वीरपुर थाना क्षेत्र के विभिन्न्न गांव में प्रचार प्रसार में लगे थे। इसी क्रम में थाना के मौजूदा जमादार के द्वारा उन्हें सूचना दिया गया कि विक्रम कुमार रूम का दरवाजा लगा लिया है। जबतक में थानाध्यक्ष थाना पहुंचे तबतक वह रूम में लगे पंखा से झूल गया तथा उसकी मौत हो गई।

घटना की सूचना पर सदर डीएसपी राजन सिन्हा,समेत कई थाने की पुलिस पदाधिकारियों एवं पर्रा पंचायत के कई जनप्रतिनिधियों समेत अन्य पंचायत की प्रतिनिधियों की मौजूदगी में वीडियो ग्राफी करते हुए शव विच्छेदन के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेज दिया था। मृतक के सभी परिजन दिल्ली में रहते हैं।

Loading...