बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

दरभंगा की सड़कों से लड़ी जायेगी डॉ० मो० शहाबुद्दीन को न्याय दिलाने की जंग: नज़रे आलम

610

पटना Live डेस्क। सिवान के पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन की मौत के बाद लगातार उनके समर्थक और परिजन साजिशन उनकी हत्या किए जाने का आरोप लगा रहे है।इसको लेकर सोशल मीडिया के तमाम मंचो पर #justiceforShahabuddin हैशटैग के तहत अभियान चला रहे है।

दरअसल अचानक मो. शहाबुद्दीन की मौत पर उनके लाखों हज़ारो समर्थकों को यक़ीन नही हो रहा है कि उनका कायद अब उनके बीच से सदा के लिए रुख़सत हो गया है। उनके साथ साज़िश के तर्क के साथ सिवान से लेकर सऊदी अरब तक मुहिम शुरू कर दी गई है। इस आक्रोश और जांच की मांग को अब ऑल इंडिया मुस्लिम बेदारी कारवां के राष्ट्रीय अध्यक्ष नज़रे आलम ने दरभंगा की सड़कों न्याय की जंग का आगाज़ करने का आह्वान किया है।

अपने ऐलान के बाबत उनका कहा है।सिवान के पूर्व सांसद और शेर-ए-बिहार के नाम से प्रसिद्ध डॉ० मो० शहाबुद्दीन की बीते दिनों हुई मौत को लेकर छिड़ा बवाल शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। कई बड़े राजद नेताओं के इस्तीफे और कई प्रकार के आरोपों के बीच शहाबुद्दीन की मौत को लेकर आवाज़ उठा रहे ऑल इंडिया मुस्लिम बेदारी कारवां के राष्ट्रीय अध्यक्ष नज़रे आलम ने मंगलवार को ऐलान कर दिया है कि शहाब को न्याय दिलाने के लिए अब उन्हें और उन जैसे तमाम लोगों को सड़कों पर उतर कर आंदोलन करना होगा

नज़रे आलम का आरोप है कि पूर्व सांसद की मौत के पीछे एक बड़ी राजनितिक साज़िश है और इस साजिश में कई बड़े नाम भी शामिल हैं। इसलिए शासन – प्रशासन से इन्साफ की उम्मीद लगाना बेकार है। हालांकि इनका गुस्सा राष्ट्रीय जनता दल और इसके शीर्ष नेतृत्व से भी जिन्होंने शहाबुद्दीन की मौत के बाद उन्हें अकेला छोड़ दिया।

वहीं नज़रे आलम ने स्वर्गीय पूर्व सांसद के पुत्र ओसामा शहाब से भी अपील की है वो उनके इस आंदोलन को समर्थन दें और न्याय की इस लड़ाई को मजबूत करें।

Comments are closed.