बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-सिवान MP कविता सिंह व पति बाहुबली अजय सिंह बाल बाल बचे हमले की साज़िश नाकाम,3 गिरफ्तार

सांसद कविता सिंह और उनके पति अजय सिंह पर उनके गांव नंदामुड़ा स्थित सांसद के आवास पर हमला करने करने की नीयत से आए तीन अपराधियों को हथियार के साथ सांसद के सुरक्षा गार्ड एवं स्थानीय लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया

553

पटना Live डेस्क। बिहार के चर्चित लोकसभा क्षेत्र सिवान से जदयू की लोकसभा सदस्‍य कविता सिंह पर हमले की साजिश नाकाम हो गई है। पुलिस ने साजिश में शामिल कुछ अपराधियों को पकड़ लिया है। सिवान आपराधिक रूप से काफी संवेदनशील इलाका रहा है। 2019 में यहां से जदयू की टिकट पर कविता सिंह ने जीत दर्ज की। कविता सिंह के पति भी बाहुबली माने जाते हैं।

कारतूस व हथियार संग अपराधी गिरफ्तार

मिली जानकरी के अनुसार सिसवन थाना क्षेत्र के नंदामुड़ा गांव स्थित सांसद के आवास पर जदयू सांसद कविता सिंह एवं उनके पति जदयू नेता अजय सिंह पर हमला करने करने की नीयत से आए तीन अपराधियों को हथियार के साथ सांसद के सुरक्षा गार्ड एवं स्थानीय लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। गिरफ्तार अपराधी एमएचनगर थाना क्षेत्र के सिसवाकला गांव निवासी अवधेश सिंह का पुत्र राहुल सिंह, मनोज सिंह का पुत्र अभिषेक सिंह और डेरा राय के बंगरा निवासी कामेश्वर सिंह का पुत्र भानु प्रताप सिंह है। इनके पास से एक देसी कट्टा कारतूस सहित बरामद किया गया।

गुरुवार की शाम हुई हवाई फायरिंग

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। घटना के संबंध में सांसद पति अजय सिंह ने बताया कि गुरुवार की शाम सात बजे के करीब मैं और सांसद कविता सिंह अपने दालान के आगे बैठे थे, जहां कलश स्थापन हुआ है। उसी समय बोलेरो पर सवार चार-पांच लोग दालान वाले रास्ते से तेज रफ्तार से जा रहे थे, बोलेरो की तेज रफ्तार होने के कारण मैंने उन्हें तेज गति से गाड़ी चलाने से मना किया, तब भी वे लोग नहीं माने। इसके बाद उनलोगों को रोकने के लिए हवाई फायरिंग करनी पड़ी। तब वे लोग अपनी गाड़ी रोके। गाड़ी रुकने के बाद उनलोगों की पहचान क्षेत्रीय लोगों के रूप में हुई।

रात को फिर लौटे तीनो हथियारबंद बदमाश

सांसद पति के मुताबिक जब उनलोगों से पूछताछ की गई तब उनलोगों ने मुड़ा गांव के ही दिलीप सिंह के यहां जाने की बात कही, इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया। कुछ ही देर के बाद एक जान पहचान वाले व्यक्ति द्वारा मेरे मोबाइल पर फोन कर गोली चलाने की बात कहते हुए धमकी भरे लहजे में देख लेने की बात कही गई, जिसे मैंने अनदेखा कर दिया, इसी बीच रात के करीब दस बजे मोटरसाइकिल पर सवार तीन हथियार बंद अपराधी हमला करने की नीयत से मेरे दलान पर आ धमके। उस वक्त सांसद एवं हमारे परिवार के सदस्य आरती की तैयारी में थे।

बाइक से उतरकर राहुल नाम का एक अपराधी मेरे पास आया जो नशे में था तथा दो बाइक सवार कुछ दूरी पर खड़े थे। बाइक चला रहा एक अपराधी मेरे पास खड़े अपराधी को बार बार हटने के लिए कह रहा था, हो हल्ला सुनकर उस वक्त आसपास के दर्जनों लोगों की भीड़ जमा हो गई और तीनों को लोगों ने पहचान लिया तथा छोड़ने की बात कहने लगे। उसके बाद पुनः उन्हें भी छोड़ दिया गया, लेकिन थोड़ी देर तभी बाद वे लोग दुबारा मेरे दलान कि ओर आ धमके, जिसके बाद सांसद के सुरक्षा गार्डों एवं स्थानीय लोगों ने तीनों को हथियार के साथ पकड़ लिया। इसकी सूचना एसपी को दी गई।

सूचना मिलते ही पहुंची चार थानों की पुलिस

इसके बाद मुफ्फसिल थाना, हसनपुरा थाना, सिसवन थाना एवं चैनपुर ओपी पुलिस मौके पर पहुंची तथा पकड़े गए अपराधियों को अपने साथ थाना ले गई। अजय सिंह ने बताया कि शाम की घटना के बाद हमलोग सतर्क थे। इस कारण बड़ी घटना टल गई। अजय सिंह ने बताया कि जब उन्‍होंने एसपी को फोन कर घटना की जानकारी दी तब उन्होंने कहा कि आपका घर किस थाना क्षेत्र में पड़ता है। तब मैंने उनसे कहा कि आपके सांसद के घर का थाना क्षेत्र भी मालूम नहीं है।

4 जिंदा कारतूस व कट्टा बरामद 

वही, गिरफ्तार युवकों की पहचान एमएच नगर थाना क्षेत्र के सिसवां कला के अवधेश सिंह के बेटे राहुल कुमार सिंह,मनोज सिंह के बेटे अभिषेक सिंह और डेरा राय के बंगरा के कामेश्वर सिंह के बेटे भानु प्रताप सिंह के तौर पर की गई हैं। घटनास्थल पर पुलिस ने जब इनको हिरासत में लिया तीनो नशे में धुत्त थे।इनके पास से 315 बोर का एक पिस्तौल व 4 जिंदा कारतूस बरामद हुआ है।

Comments are closed.