Super Exclusive – महराजगंज के भाजपा सांसद की गबन कथा- जहां जहां पड़े माननीय के कदम वही सरकारी धन का हो गया गबन

234

पटना Live डेस्क। देश के चौकीदार यानी चौकीदार नरेंद्र मोदी ने जब सत्ता संभाली थी तो बाबुलंद आवाज में घोषणा की थी कि – न खाऊंगा न खाने दूंगा लेकिन समय के साथ ये भी एक जुमला बनकर रह गया। हालात ये हो गए कि पीएम के वायदों की हवा “घर के विभीषण” ही निकाल दे रहे है। इसी क्रम में एक मामले के मय सुबूत खुलासे ने भाजपा और प्रधानसेवक की चौकीदारी पर सवालिया निशान लगा दिया है।दरअसल, पटना Live ने महाराजगंज बीजेपी के निवर्तमान सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के करोड़ो के गबन की खबर का खुलासा करते हुए अपने पाठकों को “महराजगंज की महालूट कथा” का सच मय सुबूत बताया था …

READ THE FACT –PM मोदी के वायदें “न खाऊंगा न खाने दूंगा” की बिहार में उड़ी धज़्ज़िया, BJP के MP करोड़ो के गबन में शामिल!

लेकिन, एमपी महराजगंज जनार्दन सिंह सिग्रीवाल का सच तलाशने की कवायद में पटना Live ने तो जैसे मधुमक्खी के छत्ते में हाथ डाला दिया। शुरुआत में ही भाजपा सांसद कर कारनामो के बाबत तमाम ऐसे सुबूत मिलने लगे जो हमे इस खुलासे को ” “महराजगंज की महालूट कथा” का नाम देने पर मजबुर कर दिया। ख़ैर,

इंटर महाविद्यालय का एक करोड़ गपचे

सूर्यदेव इंटर महाविद्यालय, रामपुर नूरसराय, के शासी निकाय के अध्यक्ष रहने के दौरान अवैध तरीके से फण्ड निकालकर महराजगंज भाजपा सांसद महोदय से रख लिया। जिसकी जांच जिला शिक्षा पदाधिकारी सारण (छपरा) के द्वारा इस राशि की हेरफेर की जाँच पत्रांक 283 दिनांक 8/6/18 से जाँच निगरानी कोषांग बिहार विद्यालय परीक्षा समिति एवं निदेशक उच्च माद्यमिक बिहार द्वारा हुई। पुस्तकालय सहायक उमेश कुमार सिंह के माध्यम से निकासी हुई और लगभग एक करोड़ रुपये सांसद महोदय ने गबन कर लिया।

Read it – पटना Live के खुलासे का हुआ जबरदस्त असर  -“संकट में सिग्रीवाल” 

कह सकते है कि जहाँ जहाँ सांसद महोदय के पाँव पड़े वहां वहां सरकारी फण्ड का पैसा गपच लिया गया। लेकिन चुकी महोदय सांसद है, अपने रुतबे रुआब और ऊंची पहुच के बल और तमाम मामलों को दबाये रखने में कामयाब होते आ रहे है।

लेकिन कहते है न “सांच को आंच” नही की तर्ज पर आखिरकार महराजगंज की महालूट कथा अब सात परते भेद कर भी बाहर निकल रही है।

Loading...