बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-CM ग्राम परिवहन योजना के एंबुलेंस से कर रहे थे शराब की तस्करी, पुलिस ने जब्त की 173 बोतलें    

पुलिस ने सदर थाना में मद्य निषेद कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।वहीं, चौकीदार से बदसलूकी को लेकर आरोपियों के उपर एससी-एसटी के तहत भी मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस शराब तस्कर दीपक साह और एंबुलेंस ड्राइवर राघव की तलाश में जुटी है।

224

पटना Live डेस्क। बिहार में पूर्णशराबबंदी कानून (Liquor Ban in Bihar) को लेकर सीएम नीतीश कुमार सख्ती साफ नजर आ रहे है। वही दूसरी तरफ मोटे मुनाफे का धंधा बन चुका शराब तस्करी के धुरंधर धंधेबाज लगातार शराब की स्मगलिंग करने से बाज़ नहीं आ रहे है। इसी क्रम में एक बार फिर पुलिस शराब की तस्करी का पर्दाफाश किया है। सुपौल जिले (Bihar Supaul) में मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत संचालित होने वाली एक एंबुलेंस (Ambulance of Chief Minister Village Transport Scheme) से शराब की तस्करी हो रही थी। जिले के सदर थाना की पुलिस ने मंगलवार को क्षेत्र के परसरमा गांव के वार्ड चार में दीपक साह के दरवाजे पर शराब से लदी एंबुलेंस बरामद की है। एंबुलेंस में 173 बोतल अंग्रेजी शराब पाई गई है।दरअसल,परसरमा गांव के सूत्रों से चौकीदार शिवजी पासवान को सूचना मिली थी कि दीपक साह के दरवाजे पर एक एंबुलेंस लगी है,जिसमें शराब है।

सूचना मिलने के बाद चौकीदार सूचना का सत्यापन करने जैसे ही मौके पर पहुंचा तो शराब तस्करों ने उसके साथ धक्का मुक्की करने लगे। इस बात की जानकारी चौकीदार द्वारा सदर थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह को दे दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची,जहां एंबुलेंस लगी हुई थी और कई लोग खड़े थे। ऐसे में पुलिस ने एंबुलेंस को कब्जे में करते हुए दीपक शाह के घर के पीछे की जांच की। इस दौरान कुल 173 बोतल विदेशी शराब जब्त की गई।हालांकि अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

आरोपियों की तलाश कर रही है पुलिस

इस मामले में पुलिस ने सदर थाना में मद्य निषेद कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज किया है। वहीं,आरोपियों के उपर एससी-एसटी के तहत भी मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस शराब तस्कर दीपक साह और एंबुलेंस ड्राइवर राघव की तलाश कर रही है।।ताकि,शराब तस्करी के मुख्य सरगना को पकड़ा जा सके। लेकिन अब तक सदर पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है।

वही, बरामदगी के बाबत थाना अध्यक्ष बिनोद कुमार सिंह ने बताया कि चौकीदार द्वारा सूचना दी गई, जिसके बाद पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची। एंबुलेंस से शराब लाने की पुष्टि की गई है। ड्राइवर सहित कारोबारी फरार हो गए हैं। सभी के विरुद्ध मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। जल्द ही पूरे रैकेट का खुलासा कर लिया जाएगा।

विधानसभा परिसर से मिली शराब की बोतले

जारी शीत सत्र के दूसरे दिन विधानसभा परिसर में शराब की बोतलें मिलने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने सख्त आदेश दिए हैं।उन्होंने विधानसभा में कहा, ‘इस चीज़ को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। हम मुख्य सचिव और डीजीपी को इस पर कार्रवाई करने के लिए कहेंगे। अगर यहां शराब की बोतल आई है तो इसका मतलब कोई गड़बड़ कर रहा है और उसको छोड़ना नहीं चाहिए’।

Comments are closed.