बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

आयोग के साथ पर्षद, बोर्ड और अन्य संस्थानों की बिहार में अब होंगी परीक्षाएं

26

पटना Live डेस्क। कोरोना के कारण लंबे समय से तमाम शिक्षण संस्थानों पर ताला लगा रहा, परीक्षाएं नहीं हो पाई। लेकिन, अब राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण के कारण शिक्षण संस्थानों पर लागू प्रतिबंध में छूट के दायरे को थोड़ा बढ़ा दिया है। इसके तहत अब आयोगों के अलावा पर्षद, बोर्ड व इसके समकक्ष संस्थानों की तरफ से ली जाने वाली प्रवेश या चयन संबंधित प्रतियोगिता परीक्षा का आयोजन हो सके। साथ ही विभिन्न व्यावसायिक या प्रोफेशनल कोर्स से जुड़ी प्रवेश परीक्षाओं को आयोजित करने की छूट दे दी गयी है।


हालांकि, इन सभी तरह की परीक्षाओं के आयोजन में कोरोना प्रोटोकॉल और अद्यतन मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करना अनिवार्य होगा। गृह विभाग ने इससे संबंधित आदेश जारी कर दिया है।इसमें यह कहा गया है कि शिक्षा विभाग को इन परीक्षाओं के आयोजन को लेकर विस्तृत गाइडलाइन तैयार करके जारी करनी है। शैक्षणिक संस्थानों को लेकर शेष अन्य आदेश पहले की तरह ही लागू रहेंगे।
राज्य के सभी विश्वविद्यालय, कॉलेज और तकनीकी शिक्षण संस्थान के अलावा 11वीं और 12वीं तक के स्कूल 50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति के साथ वर्तमान व्यवस्था के साथ ही खुलते रहेंगे। सभी सरकारी प्रशिक्षण संस्थान भी प्रशिक्षुओं की 50% उपस्थिति के साथ खोले जा सकेंगे।
लेकिन, इस तरह के सभी संस्थानों को छोड़कर अन्य सभी स्कूल, कोचिंग, ट्रेनिंग सेंटर और शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। इस दौरान स्कूल एवं कॉलेज में किसी तरह की परीक्षा का आयोजन नहीं होगा। राज्य में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए खासतौर से यह व्यवस्था की है।

Comments are closed.