बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – मां की अंतिम आरजू पूरी नही कर सके इरफान खान , कोकिलाबेन अस्पताल में हुआ निधन

212
  • बॉलीवुड के मशहूर एक्टर इरफान खान अस्पताल में थे भर्ती
  • इरफान खान को Colon infection की वजह से अस्पताल में  किया गया था एडमिट
  • इरफान की मां सईदा बेगम का रमजान के पहले दिन शनिवार को हुआ था इंतकाल
  • अंतिम समय में भी सईदा का आरजू थी कि इरफान मौत से जंग जीतकर जयपुर जल्द लौटे

पटना Live डेस्क। राजस्थान के जयपुर के थिएटर से बॉलीवुड और हॉलीवुड में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाने वाले फिल्म अभिनेता इरफान खान को तबियत खराब होने के बाद मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लंबे समय तक ब्रेन कैंसर से लड़ रहे इरफान पिछले साल ही लंदन में इलाज करवा कर वतन लौटे थे। अब उन्हें कॉलन इन्‍फेक्‍शन (Colon infection) की शिकायत पर भर्ती करवाया गया है। फिलहाल डॉक्टरों की निगरानी में उन्हें आईसीयू में रखा गया है और दुनियाभर से उनके प्रशंसक उनकी खैरियत की दुआएं कर रहे हैं। उनके परिजनों का मानना है कि इरफान मौत से यह जंग भी जीतकर घर लौटेंगे क्यों कि उनकी मां की भी यही अंतिम आरजू थी। लेकिन अपनी माँ की हर बात को आदेश समझने वाले इरफान मां की अंतिम आरजू पूरी नही कर सके। बुधवार को कोकिलाबेन अस्पताल में उनका निधन हो गया।

95 वर्षीय मां की अंतिम आरजू

इरफान की मां सईदा बेगम का रमजान के पहले दिन यानी शनिवार को इंतकाल हुआ है। लॉकडाउन के चलते इरफान अपनी मां के इंतकाल के बावजूद मुंबई से जयपुर नहीं आ सके लेकिन मां अंतिम सांस तक अपने लाडले की सलामती की दुआएं मांगती रही। इरफान के भाई सलमान ने बताया कि 95 साल की मां की अंतिम इच्छा थी कि इरफान भाई जल्द से जल्द स्वस्थ हो कर घर लौटें। बता दें कि इरफान ने शनिवार को मुंबई में रहते हुए वीडियो कॉल के जरिए ही अपनी मां के अंतिम दर्शन किए थे।

फिल्म अंग्रेजी मीडियम के जरिए कमबैक

2018 में पहली बार इरफान को ब्रेन कैंसर का पता चलता था। इसके बाद करीब एक साल उन्होंने विदेश में इसका इलाज लिया और पिछले साल ही वापस भारत लौटे। उन्हें न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी हुई है। लेकिन इससे उबर कर उन्होंने फिल्म ‘अंग्रेजी मीडियम’ जरिए कमबैक किया। हालांकि उनकी यह फिल्म कोरोना वायरस के चलते कमर्श‍ियली सक्सेसफुल नहीं सकी।

Comments are closed.