बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

रफ़्तार का कहर- सहरसा के एक परिवार पर शनीचर पड़ा भारी, पूरा परिवार एक साथ हुआ हादसे का शिकार

बिहार के गोपलागंज में भीषण सड़क हादसा, एक ही परिवार के चार लोगों की मौत, हादसे की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया

1,192

पटना Live डेस्क। बिहार के गोपालगंज जिले में शनिवार को भीषण सड़क हादसा हुआ। इस हादसे एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गयी। मिली जानकारी अनुसार होली मनाने के लिए दिल्ली से सहरसा लौट रहे थे। गोपालगंज के डुमरिया घाट के पास महम्मदपुर के एनएच- 28 के डुमरिया घाट के पास विपरीत दिशा यानी चंपारण की तरफ से आ रहे सब्जी लदे अनियंत्रित ट्रक ने कार में सामने से जोरदार ठोकर सामने से मार दी। कार और ट्रक के बीच जोरदार टक्कर हो गयी।हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए।

इस भीषण टक्कर में कार ड्राइव कर रहे संजीव झा एवं निमी झा की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि गंभीर रूप से घायल आस्था कुमारी और राजकुमार को मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सभी को बाहर निकाला। और अस्पताल ले जाया गया लेकिन अस्पताल पहुंचते ही दोनों की मौत हो गई।

होली मनाने आ रहे थे सहरसा

मिली जानकारी अनुसार पूरा परिवार होली मनाने के लिए कार से दिल्ली से सहरसा के अपने पैतृक गांव बनगांव आ रहा था। इस दौरान जैसे ही वे मोहम्मदपुर के डुमरिया घाट ओवर ब्रिज के पास पहुंचे,तभी सामने से आ रहे मिर्ची लदे ट्रक से कार की भिड़ंत हो गई।इस भीषण हादसे में चारों लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी।

मरने वालों की पहचान 45 साल के संजीव झा उनकी पत्नी 40 साल की निमी झा, बेटी 20 साल की आस्था झा और बेटा 18साल के राजकुमार झा के रूप में हुई है। मृतक संजीव झा दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में काम करते थे। होली की छुट्टी में पूरे परिवार के साथ गांव आ रहे थे।

घटना के बाद ट्रक चालक हो गया फरार

महम्मदपुर पुलिस ने रात में ही घटनास्थल पर पहुंचकर शवों को अपने कब्जे में ले लिया। दुर्घटनाग्रस्त ट्रक और कार जब्त कर लिया गया है। मृत लोगों के परिजनों के यहां दूरभाष पर सूचना पुलिस ने सुबह में दी। महम्मदपुर थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार पांडेय ने बताया कि परिजनों द्वारा पहचान किए जाने के बाद चारो शवों को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज भेजा गया है। घटना को अंजाम देने के बाद ट्रक चालक भागने में सफल रहा। फरार चालक के विरुद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

बनगाँव में पसरा मातम 

बता दे की मक़तूल के पैतृक गाँव बनगाँव में होली के अवसर पर रविवार को घुमौर होली का आयोजन होना था। तमाम तैयारियों को फाइनल टच दिया जा रहा था। लेकिन इसी बीच शनिवार की सुबह सबेरे गोपलागंज पुलिस द्वारा दी गई हादसे की सूचना के बाद कोहराम मच गया। वही, इस घटना से गाँव में मातम पसर गया है।जबकि परिजन का रो रोकर बुरा हाल हो गया है।

Comments are closed.