BREAKING (Exclusive) पटना में बाइकर्स का दुःसाहस थाने से बैटरी चुराते रंगे हाथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

202

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में बाइकर्स को एक बेहद दुःसाहसिक वारदात को अंजाम देते हुए पुलिस ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। दरसअल आरवन फाइव बाइक पर सवार 2 युवको को पुलिस द्वारा उस वक्त खदेड़ कर गिरफ्तर कर लिया गया,जब वो थाना परिसर में लगी एक अन्य आरवन फाइव बाइक से रात के अंधेरे का फायदा उठाकर बैटरी चुराने की कोशिश कर रहे थे। यह मामला राजधानी के राजीव नगर थाना परिसर में घटित हुआ। रंगे हाथ बैटरी चुराते हुए गिरफ्तार दोनों युवक बिहटा के प्रतिष्ठित परिवारों के चश्मों चराग है। गिरफ्तार दोनों युवक पढ़ाई करते है। एक युवक जहा पॉलिटेक्निक फर्स्ट ईयर का छात्र है। तो वही दूसरा आईटीआई में पढ़ाई कर रहा है। गिरफ्तार दोनों युवक पर मामला दर्ज कर राजीव नगर थानाध्यक्ष द्वारा अग्रतर कानूनी कार्रवाई की जा रही है।
मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तार राहुल कुमार रंजन जो मूल रूप से दुल्हिन बाजार थाना क्षेत्र का रहने वाला है, वही मनीष कुमार बिहटा थाना क्षेत्र का मूल निवासी है। वर्त्तमान में दोनों राजधानी में क्रमशःअनीसाबाद और जे सेक्टर अशोकनगर, कंकड़बाग में रहते है। दोनों युवक बीती रात अपनी बाइक पर सवार होकर राजीव नगर थाना के पास पहुचे और अपनी बाइक थाने से कुछ दूर सड़क पर पार्क कर टहलने लगे। दरअसल दोनों के निशाने पर थाना परिसर में लगी एक बाइक थी।जो काफी लंबे समय से किसी अपराध के दौरान जब्त की गई है। गिरफ्तार युवक ने बताया कि चुकी उसके बाइक की बैट्री खराब हो गई है। जिसकी कीमत लगभग 3 हजार के आसपास है। जब बैट्री चेंज करने खातिर युवक ने घर वालो ने जब पैसे नही दिए तो वो बैट्री चुराने की कोशिश कर रहा था।      अपनी बाइक के लिए बैट्री चुराने खातिर जब वो पटना की सड़को पर भटक रहे थे तभी उनकी नज़र राजीव नगर थाना द्वारा जब्त एक आरवन फाइव बाइक पर पड़ी जो थाना परिसर के बाहर सड़क पर पकड़ी गई गाड़ियों के बीच खड़ी थी।                              
दरअसल, राजीव नगर थाना बिल्कुल सड़क पर मौजूद है। थाना परिसर बेहद छोटा है। जो पूर्व से पकड़ी गई गाड़ियों से अटा पड़ा है। अमूमन थाना द्वारा जब्त और पकड़ी गई गाड़ियों को पार्क करने की समुचित व्यवस्था नही होने की वजह से थाना द्वारा परिसर से सटे सड़क के किनारे गाड़ियों को खड़ा कर दिया जाता है।इसी का फायदा उठाने की नीयत से दोनों रात के अंधेरे में पहुचे थे और उक्त बाइक से बेहद अपनी तरफ से बेहद सतर्कता बरतते हुए बाइक से बैटरी निकालने की कोशिश कर ही रहे थे। जब कोई गाड़ी गुजराती तो उसकी लाइट को देखकर दोनों वहां से हट जाते और गाड़ी गुजरते ही फिर बैट्री निकालने की जुगत में लग जाते।                                         लेकिन युवको की सारी सतर्कता उस वक्त धरी की धरी रह गई जब थाने में संतरी ड्यूटी पर तैनात सिपाही की नज़र उन पर पड़ी और उनकी संदिग्ध हरकत को देखकर वो उनके की ओर दौड़ पड़ा, पुलिस वाले को अपनी ओर आता देख वो अपनी बाइक की ओर दौड़े पड़े। लेकिन पुलिसकर्मी ने बेहद फुर्ती दिखाते हुए दोनों युवकों को खदेड़ कर पकड़ लिया।
नतीजा ये की आरवन फाइव की बैट्री चुराने के जुर्म अब दोनों हवालात की हवा खा रहे है। वही उनकी आरवन फाइव बाइक उसी आरवन फाइव के बगल में थाना परिसर में खड़ी है जिसकी बैट्री चुराने की दुःसाहसिक वारदात वो करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तर हो गए है।

Loading...