बड़ी खबर – (वीडियो) बिहार में सुशासन के दावों की उड़ी धज़्ज़िया,डॉक्टर के सामने उनकी बेटी और पत्नी के साथ गैंगरेप की घटना से दहला सूबा 

0
187

पटना Live डेस्क। बिहार में सुशासन के दावो की धज़्ज़िया उड़ाकर गया में बेहद दिल दहला देनेवाली वारदात को अंजाम दिया गया है। दरअसल दरिंदों ने पति के सामने ही पत्नी और बेटी से गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है। इस वहशियाना हरकत की गूंज जब राजधानी पटना पहुची तो एकबार को पुलिस मुख्यालय भी सन्न रह गया। वही वारदात के बाबत एडीजी एस के सिंघल ने बताया कि मामले की संगीनता को देखते हुए पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही अबतक इस जघन्य वारदात में शामिल 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वही अबतक कुल18 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ हो रही है।
वही, इस घटना के बाबत एडीजी संजीव कुमार सिंघल ने बताया कि 4 अपराधियों ने बीती रात तकरीबन 9 बजे के आसपास वारदात को अंजाम दिया है। पहले बदमाशों ने बेटी के साथ मारपीट की और फिर पत्नी के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। मां-बेटी दोनों की मेडिकल जांच करायी गयी है। इस मामले में केस दर्ज हो गया है। पॉस्को एक्ट भी लगाया गया है। बदमाशों ने दो अन्य लोगों से भी लूटपाट की है।
इस घटना ने एक बार फिर सूबे में अपराधियों के बेलगाम और बेखौफ होने की मुनादी कर दी हैं। दरअसल राज्य में सुशासन यानी कानून के राज के दावो की धज़्ज़िया उड़ाते हुए बेखौफ अपराधी ताबड़तोड़ वारदात को अंजाम दे रहे हैं। वही दूसरी तरफ पुलिस बस वारदात की FIR और तहकीकात में जुटी है। अपराधियों ने गया में दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दिया है।अपराधियों ने हैवानियत की सारी हदों को पार कर दिया। वारदात की इस घटना से तो यही लगता है कि बिहार में कानून का इकबाल अब खत्म हो चुका है।

गया में जिले के सोनडीहा गांव के पास करीब एक दर्जन अपराधियों ने मां-बेटी के साथ बुधवार की देर रात दुष्कर्म किया। मिली खबर के मुताबिक गुरारू में निजी क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टर अपनी पत्नी व बेटी के साथ घर जा रहे थे। सोनडीहा गांव पार करने पर कनौसी रोड में छिनतई की घटना को अंजाम देने की फिराक में रहे करीब एक दर्जन अपराधियों ने डॉक्टर की बाइक रुकवाई। इसके बाद हथियार के बल पर तीनों को सड़क से थोड़ी दूर ले जाकर डॉक्टर को पेड़ से बांध दिया। फिर सभी अपराधिओं ने मां-बेटी के साथ दुष्कर्म किया।

                    इस बारे में एसएसपी राजीव मिश्रा ने बताया कि पूरी घटना की गंभीरता से जांच की जा रही है।शक के आधार पर सोनडीहा गांव से 20 युवकों को हिरासत में लिया गया। पीड़िता ने इनमें से दो की पहचान कर ली है।दोनों युवकों से कड़ी पूछताछ की जा रही है।वही इस वारदात के बाद आईजी एनएच खां ने थानेदार को संस्पेंड कर दिया है।