विश्वेश्वर ओझा हत्याकांड – पटना हाईकोर्ट का डीजीपी को निर्देश, कहा सही दिशा में जांच को बढ़ाएं

visweshar ojha murder case

Patna Live डेस्क।। विश्वेशर ओझा हत्याकांड मामले की सुनवाई के दौरान पटना उच्च न्यायालय के न्यायधीश ने डीजीपी से कहा है कि जाँच एजेंसी इस केस से जुड़े सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर सही दिशा में अनुसंधान को आगे बढ़ाएं, ताकि सभी बिन्दुओ जिसमे हत्याकांड में शामिल अपराधी के साथ -साथ कांस्पीरेसी एंगल की बात भी सामने आ सके। साथ ही कोर्ट ने महानिदेशक को हत्याकांड मामले में जारी जाँच की प्रगति रिपोर्ट शपथ पत्र के माध्यम से कोर्ट में प्रस्तुत करने को कहा है।

इससे पहले भी पटना हाई कोर्ट भोजपुर एसपी को फटकार लगा चूका है। तब हाई कोर्ट ने कड़े शब्दों में कहा था कि अगर पुलिस की कार्यप्रणाली ऐसी ही रही तो स्वतंत्र एजेंसी से जांच कराई जाएगी।

Read Also – सिवान के साहेब “शहाबुद्दीन’ को  लगा तगड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने तेज़ाब कांड में उम्रकैद की सज़ा को रखा बरकरार

मालूम हो कि भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की हत्या 12 फरवरी, 2016 को भोजपुर जिले के शाहपुर प्रखंड के करनामेपुर ओपी थाना क्षेत्र के सोनबरसा बाजार में अपराधियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर कर दी थी। इस मामले में सात लोगों पर नामजद केस हुआ था।

बीते दिनों विशेश्वर ओझा हत्याकांड के प्रमुख गवाह सोनबरसा गांव निवासी कमल किशोर मिश्र की भी हत्या कर दी गयी थी।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और Youtube पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )