BiG News – नीतीश कुमार के विधायक और पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता की, दंबगई वाली तस्वीर वायरल, जानिए पूरा सच

पटना Live डेस्क। बिहार के बांका जिले के धोरैया विधानसभा क्षेत्र के जदयू विधायक एवं पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मनीष कुमार की एक तस्वीर जिसने में वो कथित तौर पर दबंगई  करते दिख रहे है।सोशल मीडिया पर जबरदस्त ढंग से वायरल हो रही है। वायरल तस्वीर में विधायक मनीष कुमार गुस्से में उंगली दिखाते हुए सामने एक व्यक्ति से कान पकड़कर उठक बैठक करा रहे हैं।यह व्यक्ति कौन है, यह तो पता नहीं है। पर सरेआम सड़क पर वो उठक बैठक कर रहा है। यह तस्वीर लगतार सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही है। लेकिन इस तस्वीर को लेकर कई तरह की चर्चाओं का भी बाजार गर्म है।
इधर, इस तस्वीर को लेकर क्षेत्र में अलग ही चर्चा है। कहा जा रहा है कि तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति अपनी साइकिल से कहीं जा रहा था। लेकिन दुर्भाग्य से उसकी साइकिल किसी तरह विधायक मनीष कुमार की स्कोर्पियो से टकरा गयी। इससे गुस्साए विधायक ने गाड़ी से उतरकर उस की सरेआम ऐसी तैसी कर दी। सबके सामने कान पकड़कर उससे उठक बैठक लगवाई। किसी ने इसकी तस्वीर ली और उनकी कथित दबंगई की चर्चा करते हुए मैसेज के साथ तस्वीर को वायरल कर दिया। बहरहाल, मामला जो भी हो, तस्वीर सोशल मीडिया पर आज वायरल है और जबरदस्त वायरल है।फेसबुक, टि्वटर, व्हाट्सएप और दूसरे सोशल साइट्स पर इस तस्वीर और मैसेज का आदान-प्रदान जारी है।

वायरल तस्वीर और एमएलए मनीष कुमार

इस वायरल तस्वीर के बाबत जदयू प्रवक्ता सह विधायक का कहना है कि तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति एक ट्रक ड्राइवर है और वायरल तस्वीर करीब डेढ़ माह पुरानी बांका जिला अंतर्गत रजौन प्रखंड के उनके अपने ही धोरैया विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत कोतवाली गांव के पास की है। विधायक मनीष बताते है कि करीब डेढ़ माह पूर्व वह अपने क्षेत्र के दौरे पर थे। उस वक्त श्रावणी मेले की वजह से सड़कों पर कांवरियों का जबरदस्त आवागम था लिहाजा वाहनों के आवागमन के लिए सड़क पर वन वे ट्रेफिक की व्यवस्था थी। जब वह कोतवाली के पास से होकर गुजर रहे थे, सड़क पर एक ओर से ट्रक और दूसरी ओर से एक एंबुलेंस आमने-सामने हो गए। एंबुलेंस पर एक महिला मरीज थी,जो दर्द से कराह रही थी। गलती ट्रक वाले की थी, इसलिए मार्ग से चल रहे कांवरिया उन पर गुस्सा हो गए। कुछ लोगों ने ड्राइवर को ट्रक से उतारकर मारपीट करना शुरू कर दिया। ऐसे में माहौल बिगड़ने से पहले मैंने हस्तक्षेप किया और ट्रक ड्राइवर को अलग ले जाकर उठक बैठक करा कर मामले को शांत करने की कोशिश की। मामला बस इतना सा ही था। लेकिन तब किसी ने इसकी तस्वीर ले ली होगी, जो अब जाकर वायरल हो रही है।