बड़ी खबर – पटना ने अपना बेटा तो यूपी ATS ने अपना जांबाज अधिकारी खोया,एडिशनल एसपी ने कार्यालय में खुद को गोली से उड़ाया,परिजन बोले हो सीबीआई जांच

0
117

पटना Live डेस्क। मूल रूप से राजधानी पटना के रहने वाले उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ते यानी एटीएम के तेजतर्रार अपर पुलिस अधीक्षक राजेश साहनी ने मंगलवार दोपहर अपने कार्यालय में खुद को सरकारी पिस्टल से गोली मार कर आत्महत्या कर ली। गोली चलने की आवाज सुनकर आफिस के पुलिसकर्मी दौड़ कर साहनी के कार्यालय में पहुंचे,तो देखकर दंग रह गये।राजेश साहनी लहूलूहान कार्यालय में पड़े थे। सूचना पाकर एडीजी लॉ एंड आर्डर आनन्द कुमार, आईजी, एसएसपी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे।आईजी अमिताभ यश ने साहनी के गोली मारने की पुष्टि की।
गोमतीनगर थाना क्षेत्र में एटीएस कार्यालय में मंगलवार की दोपहर करीब एक बजे हड़कंप मच गया। साहनी 1992 बैच के प्रांतीय पुलिस सेवा के अधिकारी थे। पीपीएस अफसर राजेश साहनी ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। गोली चलने की आवाज सुनकर कर्मचारी मौके पर दौड़े। वहां उन्होंने खून से लथपथ अधिकारी को तड़पते देख फौरन अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी मौत हो गई। बताया जाता है,कि साहनी ने आत्महत्या से महज कुछ वक्त पहले ही अपने ड्राइवर से अपनी सरकारी पिस्टल मंगाई। इसके कुछ देर बाद उन्होंने गोली मारकर खुदकुशी कर ली। मौके से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं मिली है। खुदकुशी के कारणों को पता नहीं चला है। आत्महत्या इस्तेमाल हुई सरकारी पिस्टल पुलिस ने कब्जे में ले ली है। पुलिस मामले की जाँच करने में लगी है। इंस्पेक्टर गोमतीनगर ने बताया कि राजेश साहनी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।ISIS खुरासान मॉड्यूल को किया गिरफ्तार

आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल का खुलासा करने वाले 1992 बैच के पीपीएस अधिकारी राजेश साहनी का नाम उत्तर प्रदेश पुलिस के बेहद काबिल अफसरों में शामिल था। बीते सप्ताह ही पिथौरागढ़ से आईएसआई एजेंट रमेश सिंह को गिरफ्तार करने में उन्होंने बेहद अहम भूमिका अदा की थी।फॉरेंसिक टीम जांच

घटना के करीब एक घंटे बाद फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची। टीम मौके पर साक्ष्य जुटा रही है। घटनास्थल तक जांच टीम के अलावा किसी को जाने की अनुमति नहीं दी गई है। मीडिया को भी पूरी तरह प्रतिबंध किया गया है।पत्नी को नही हो रहा यकीनसाहनी की मौत की खबर पाकर उनके परिवार वाले भी रोत-बिलखते एटीएस मुख्यालय पहुंचे। पत्नी को यकीन ही नहीं हो रहा है,कि उनके बहादुर पति ने खुद को गोली मार आत्महत्या कर ली है। बच्चे भी पापा की मौत से सदमे में हैं। इतना ही महकमे के सभी लोग हैरान है,कि साहनी जैसा जाबाज अफसर ऐसा क्यों उठाया है।     पटना में परिजनों ने की CBI जांच की मांगइस घटना के बाद उनके पटना स्थित पटेल नगर घर मे भी कोहराम मच गया।इस घटना के सुनने के बाद आस पास के रहने वाले लोगो को भी यकीन नही हो रहा है। लोगो ने बताया कि राजेश साहनी बहुत ईमानदार व्यक्ति और जिंदादिल इंसान थे। ये दुखद खबर सुनकर पूरे परिवार के लोग हतप्रभ है। वही घटना के बाबत उनकी भतीजी हिना साहनी ने बताया कि ये खबर सुनने के बाद विस्वास नही हो रहा कि ऐसी घटना हुई है। हिना ने बताया अंकल आत्महत्या नही कर सकते। आखिर उन्होंने क्यो आत्महत्या की इस के पीछे का सच पता किया जाना चाहिए। घटना की जाँच सीबीआई से कराई जाए तभी सच बाहर आयेगा।