भागलपुर रैली में की गई आपत्तिजनक बातों को लेकर लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव के खिलाफ नोटिस

30

पटना Live डेस्क. भागलपुर की रैली में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की आपत्तिजनक टिप्पणी के खिलाफ लालू यादव और तेजस्वी यादव को नोटिस भेजा गया है…लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव ने आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सदस्य उदय कांत मिश्र और नीतीश कुमार के संबंधों को लेकर की आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं…जारी नोटिस में कहा गया है कि लालू यादव और तेजस्वी ने कैसे उदयकांत मिश्रा के संबंधों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की क्या उदय मिश्रा कोई सजायाफ्ता मुजरिम हैं या अपराधी हैं जिनके घर पर सीएम नीतीश कुमार नहीं जा सकते?

उदयकांत मिश्रा और नीतीश कुमार कॉलेज के दिनों के दोस्त हैं और उनकी दोस्ती काफी पुरानी है और नीतीश कुमार जब भी जाते हैं तो उदयकांत मिश्रा की मां का आशीर्वाद लेने जरूर जाते हैं.. वकील की ओर से जारी इस नोटिस में कहा गया है कि मेरे मुवक्किल उदय मिश्रा एक शिक्षाविद हैं तथा समाज के प्रत्येक वर्गों से जान-पहचान है और सबका आना-जाना रहता है…

नोटिस में यह भी कहा गया है कि सृजन घोटाले में भी मेरे मुवक्किल का नाम लेकर टिप्पणी की गई है… अगर ऐसा है तो इसका साक्ष्य लेकर सीबीआइ के सामने पेश करें अन्यथा ऐसे झूठे आरोप लगाकर किसी के सम्मान को ठेस नहीं पहुंचाना चाहिए…

नोटिस में कहा गया है तेजस्वी यादव जी और उनके पिता ने सीएम नीतीश कुमार के बारे में सार्वजनिक रूप से की गई इन आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद मेरे मुवक्किल को समाज में अपमानित होना पड़ा है… इस भाषण का ऑडियो, वीडियो और समाचार पत्रों में छपी सारी बातें मेरे मुवक्किल के पास सुरक्षित हैं आवश्यकतानुसार इसे प्रस्तुत किया जाएगा… इस नोटिस का 15 दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया है…