घूसखोर सरकारी अधिकारियों के खिलाफ निगरानी की मुहिम जारी भवन प्रमंडल विभाग के कार्यपालक व कनीय अभियंता को रंगे हाथ दबोचा

0
8

पटना Live डेस्क। रिश्वतखोर सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ निगरानी विभाग की कार्रवाई सूबे के लगतार जारी है। इसी कड़ी में निगरानी विभाग ने बिहार के शिवहर जिले में बड़ी कार्रवाई करते हुए भवन प्रमंडल विभाग के कार्यपालक व कनीय अभियंता को रिश्वत रकम लेते रंगे हाथों दबोच लिया और दोनों अधिकारियों को अपने साथ पटना ले आई है।
इस बड़ी कार्रवाई के बाबत निगरानी की टीम ने बताया कि संवेदक रामशंकर पांडेय से सरोजा सीताराम सदर अस्पताल के भवन निर्माण कार्य का बकाया राशि के भुगतान के एवज में अधिकारी रिश्वत की मांग को लेकर फाइलों पर कुडंली मार बैठे थे।  संवेदक द्वारा बार-बार आग्रह के बाद भी अभियंताओं ने रिश्वत की मांग जारी रखी। निगरानी के मुताबिक 33 लाख रुपए भुगतान के एवज में भवन प्रमंडल विभाग शिवहर के कार्यपालक अभियंता अमरेंद्र कुमार 55 हजार और कनीय अभियंता विधासागर 33 हजार रुपए रिश्वत की मांग को लेकर फाइल पर सिग्नेचर नही कर रहे थे।
लगातार घुस की मांग पर संवेदक ने इस पूरे मामले की शिकायत निगरानी में दर्ज कराई। मिली  शिकायत दर्ज होने के बाद इस मामले की जांच कराई गई। जांच में मामला सही पाया गया,जिसके बाद निगरानी के पुलिस उपाधीक्षक महाराजा कनिष्क के नेतृत्व में धावा दल का गठन कर ये कार्रवाई की गई। महाराजा कनिष्क ने बताया की दोनों अभियंताओं को 88 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया गया है। निगरानी की इस कार्रवाई के बाद विभाग में हड़कंप मच गया है। गिरफ्तारी के बाद दोनों घूसखोर अभियंताओं को निगरानी की टीम अपने साथ पटना ले गई है।

 

Loading...