Big News – राजधानी में पार्षद ने लगाया पार्षद पर अपने पति नीलेश प्रसाद की हत्या की साज़िश का गंभीर आरोप

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में एक बेहद सनसनी खेज मामल प्रकाश आया है। दरअसल यह मामला 2 पार्षदों और उनके परिजनों से जुड़ा हुआ है।राजधानी के दीघा इलाके के वार्ड 22 B की पार्षद सुचित्रा सिंह ने DIG सेंट्रल रेंज राजेश कुमार से मिल कर अपने पति पश्चिमी मैनपुरा ग्राम पंचायत के पूर्व मुखिया नीलेश प्रसाद और परिजनों के जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। दरअसल यह पूरा मामला  पिछले वर्ष संपन्न हुए पटना मेयर के चुनाव से जुड़ा है।
अपने लिखित आवेदन में बाइस बी की पार्षद सुचित्रा सिंह ने लिखा है कि विगत वर्ष संपन्न हुए पटना मेयर के चुनाव के दौरान वर्त्तमान मेयर और 22-सी वार्ड की पार्षद रजनी देवी के बीच मुकाबले में मैंने तमाम दबावओं को नकारते हुए सीता साहू जी का समर्थन किया था। इससे नाराज 22 C की पार्षद रजनी देवी समेत उनके पति गोरख राय समेत उनके तीनो देवर मेरे पति पूर्व मुखिया नीलेश प्रसाद और मेरे परिजनों के दुश्मन बन गए है।इनके द्वारा मेरे पति नीलेश प्रसाद की हत्या की साज़िश की जा रही है।                                
अपने आवेदन में 22 B की पार्षद ने 22 सी की पार्षद रजनी देवी के देवरो और इलाके के कुख्यात अपराधी राजकुमार राय उर्फ धप्पू राय और पप्पू राय के दीघा थाना और पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र के विभिन्न कांडो का उल्लेख करते हुए, दोनों को कई हत्याकांडों का नामजद अभियुक्त और सज़ायाफ्ता अपराधी करार दिया है। साथ ही अपने पति की हत्या की साज़िश रचने का आरोप पार्षद राजनी देवी, पति गोरख राय समेत इन कुख्यात अपराधियों पर चस्पा किया है। अपने पति नीलेश प्रसाद के साथ सुचित्रा सिंह ने DIG सेंट्रल राजेश मुलाकात कर अपने पति और परिजनों के जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। मामले की गंभीरता और लिखित आवेदन को देखते सिटी एसपी को मामले की जांच कर कानूनी सम्मत कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।                              वो लोग कभी भी मेरी हत्या करा सकते है
वही, दूसरी तरफ पार्षद पति नीलेश प्रसाद जो इलाके में नीलेश मुखिया के तौर पर चर्चित ने पटना Live से बातचीत करते हुए बताया कि मेरा कसूर बस इतना है कि मैंने रजनी देवी और उनके आपराधिक प्रवृति के परिवार के तमाम दबावों को दरकिनार करते हुए वर्त्तमान मेयर सीता साहू का साथ दिया। जिसका खामियाज़ा यह है कि मेरी जान पर बन आई है।