Super Exclusive -(रौंनक फैक्ट्स फाइंडिंग मुहिम) पटना पुलिस के डीएसपी और थानेदार का हाल सुनिए, जांच कम करते है कसम ज्यादा खाते है

0
17

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना समेत सूबे को सन्न कर देने वाले अपहरण सह हत्याकांड जिसमे 9वीं क्लास के रौंनक को उसके घर से महज 5-6 मकान की दूरी पर रहने वाले विक्रांत उर्फ विक्की पासवान उर्फ छोटू ने एक साजिश के तहत न केवल अगवा किया बल्कि एक मासूम को बेहद दर्दनाक मौत देदी। मुँह पर टेप चिपका कर गला दबाकर मार दिया। फिर 2 दिनों तक फिरौती की रकम मांगता रहा। सबसे बड़ी भूल और आपराधिक लापरवाही स्थानीय थाना पुलिस की रही जो अब कसम खा रही है। पर, सुधीर ने तो अपना बेटा खो दिया है। एक माँ ने अपनी कलेजे के रौंनक को अंधेरे में जज्ब कर लिया है। अब, रौंनक खातिर इंसाफ की लड़ाई में आम आवाम और उसके स्कूल के साथी सड़को पर लेकिन यहां भी पुलिस लाठी चार्ज कर आवाज को दबाने की कवायद में लगी है।

अब कसम खाते डीएसपी और अगमकुआं SHO

एक पिता ने अपने कलेजे का टुकड़ा सदा के लिए खो दिया और शुरुआत में तो अगमकुआं थाना पुलिस समेत पूरा खाकी अमला उसे ही दोष देता रहा लेट से खबर किया और न जाने क्या क्या ? लेकिन अब जब सुधीर कुमार ने अपनी जुबान खोली है तो सच सामने है। वो सच जो पुनः एक बार अगमकुआं थाने की पुलिस की घातक लापरवाही का सच चीख चीख कर बयान कर रहा है …सुनिए रौंनक के पिता की जुबानी पटना पुलिस की करतूत की वो करतूत और अक्षम्य लापरवाहिया…

कत्ल के बाद – फिरौती की मांग की को 24 कॉलें 

बकौल सुधीर कुमार के बुधवार को रौंनक के अपहरण और फिर फिरौती की कॉल इस मोबाइल संख्या 9128110729 से तकरीबन ग्यारह बजे आई थी। फ़ोन पर विक्की ने मोबाइल पर फोन करके पुत्र रौनक से बात कराई। रौंनक ने पिता से कहा कि ये लोग मेरा अपहरण कर लिया है। इसके बाद विक्की ने रौनक के हाथ से मोबाइल लेकर 25 लाख रुपये जल्दी से व्यवस्था करने की बात कही। एक घंटे के बाद जहां कहूंगा वहां लेकर आ जाना, नहीं तो तुम्हारे बेटा को जान से मार दूंगा। दोबारा भी पिता को पुत्र से बात कराया तो पिता बोले कि बीस लाख रुपये ही इंतजाम हो पाया है। इधर, बेटे अपहरण और फिरौती मांग के फ़ोन आने के बाद सबसे पहले उन्होंने यह जानकारी अगमकुआं थाने को दी, लेकिन पुलिस ने क्या किया कैसे किया ये उनकी बातों में आप सुनही चुके है। यानी अगमकुआं थाना अध्यक्ष की तरह से घातक लापरवाही की गई और अब कसमे खाइ जा रही है। हद तो ये की इमोशनल अत्याचार किया जा रहा है अपनी संतान की कसने खाइ जा रही है। उनका वास्ता दिया जा रहा है।              हद तो ये की पुलिस को सूचना देने के बाद पुलिस ने पैसा इंतज़ाम कर रहे पिता को बच्चा सकुशल बरामद करने की गजब की सोच को मौन सहमति देदी और इसी ढर्रे पर चलते रहे। इधर, साजिशन अपहरण कर प्लान के तहत पिता से रौंनक की बात 2 बार कराकर अब विक्की आश्वस्त हो गया कि रौनक का बाप सुधीर  पैसा दे देगा उसने तय प्लान के अनुसार बुधवार की शाम को ही विक्की ने रौनक के गले में रस्सी का फंदा डालकर मार दिया। इसके बाद विक्की ने मुंह व नाक में टेप साट दिया कि ज़िंदा भी हो तो मर जाएगा। ये तमाम बातें रौंनक के हत्यारे सनकी और गजेडी विक्की पासवान भी अपने बयान में कुछ इस तरह बयान कर चुका है।