बड़ी खबर – (वीडियो) कर्नाटक की तर्ज पर तेजस्वी यादव ने ठोका राज्यपाल से सरकार बनाने का दावा, नीतिश सरकार को बर्खास्त करने की मांग

0
122

पटना Live डेस्क।कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा आमन्त्रित करने और सरकार गठन के बाद से गोवा, बिहार, मणिपुर और मेघालय में कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों ने भी सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते सरकार बनाने की बात कही है।शुक्रवार को राजद नेता तेजस्वी यादव अपने चार दलों के विधायकों के साथ बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात करने पहुंचे। उन्होंने बिहार की नीतिश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की,साथ ही महागठबंधन की सरकार का दावा भी ठोका।

तेजस्वी यादव ने ठोका सरकार बनाने का दावा  उल्लेखनीय है कि कर्नाटक में राज्यपाल ने विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया। वहीं, कांग्रेस और जेडीएस के बीच गठबंधन के बाद कुल 116 सीट थी, इसके बाद भी राज्यपाल ने कांग्रेस और जेडीएस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित नहीं किया।                                   राज्यपाल को सौंपा ज्ञापनराज्यपाल की ओर से कहा गया कि भाजपा को 104 सीटें होने के कारण सरकार बनाने का मौका मिला है क्योंकि भाजपा सूबे में सबसे बड़ी पार्टी है। इसी आधार पर बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में दो तरह का कानून नहीं चलेगा। तेजस्वी का कहना था कि आरजेडी के पास बिहार में सबसे ज्यादा 80 सीटें हैं, जो कि सबसे ज्यादा है। इस आधार पर उन्हें सरकार बनाने का मौका दिया जाना चाहिए।   तेजस्वी ने राज्यपाल से की मुलाकात रखीं बात   तेजस्वी यादव ने राज्यपाल को हाल में हो रहे कर्नाटक विधानसभा चुनाव का उदाहरण देते हुए उन्हें बिहार में भी आरजेडी को सबसे बड़ी पार्टी बताते हुए सरकार बनाने का दावा पेश कर किया है। तेजस्वी यादव ने बिहार के राज्यपाल से मुलाकात कर बाहर निकले और उन्होंने बताया कि मैंने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा किया है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस, हम,माले पार्टी के सहयोग से सरकार बनाने का कागज पेश किया है।हमने कर्नाटक के तर्ज पर बिहार में आरजेडी को भी सरकार बनाने की बात राज्यपाल से कही है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने हमारी बात गंभीरता से सुनी है।अब राज्यपाल ने इस बात पर विचार करने का समय मांगा है। उन्होंने बताया कि राज्यपाल इस बात पर विचार कर रहे हैं और वे कुछ दिनों के बाद इस बात पर अपना फैसला देंगे।अगर आने वाले समय में जरुरत पड़ती है तो वो RJd और कांग्रेस विधायकों की परेड़ भी कराएंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर उनकी बात नहीं सुनी गई तो धरने पर बैठेंगे।

 

Loading...