त्रासद – बिहार के बांका में शर्मसार हुआ गणतंत्र, मुखिया ने फहराया तिरंगे का चिथड़ा

0
15

पटना Live डेस्क। मुल्क जब गणतंत्र की 69वीं वर्षगांठ मना रहा है। तिरंगे की आन बान शाम पर अनगिनत शहिदों को याद कर गर्व की अनुभूति कर रहा है। वही बिहार के बांका जिले में गणतंत्र को शर्माशार करने की घटना ने सूबे के माथे पर कलंक का टीका लगा दिया है। गणतंत्र दिवस समारोह के हर्षोल्लास के बीच बांका जिला अंतर्गत फुल्लीडुमर प्रखंड के बेतिया पंचायत भवन में गजब हो गया।तिरंगे की जगह मुखिया ने तिरंगे का चिथड़ा फहरा दिया। हद तो ये की इससे भी शर्मनाक तो यह रहा कि तेज हवा के बीच फटा हुआ यह तिरंगा भीतिया पंचायत भवन में यूं ही फहरता रहा और लोग देखते रहे। यह मामला जबरदस्त ढंग से वायरल होकर देभर में चर्चा का विषय बना हुआ है।

बाद में कुछ लोगों ने इस संबंध में मुखिया तथा ग्राम पंचायत के लोगों को जानकारी दी। लेकिन काफी देर तक इस बारे में सोचने-समझने में ही उन्होंने लगा दिया। लोग झंडे को लेकर तरह-तरह की चर्चा करते रहे। दरअसल पंचायत के स्थानीय लोगों के बीच मुखिया ने जब झंडा फहराया तो उन्होंने या झंडे को आधार दंड में लगाते समय संबंधित व्यक्तियों ने इस बात पर गौर नहीं किया कि झंडा हरी पट्टी के पास बुरी तरह फट कर चिथड़ा बन चुका है। लिहाजा झंडा फहराया गया। तेज हवा की वजह से झंडा लहराने लगा और उसी दौरान लोगों ने देखा कि लगभग चिथड़ा बना हुआ राष्ट्रीय ध्वज पंचायत भवन में फहरा रहा है।
हालांकि उस वक्त वहां समारोह मनाने पहुंचे लोग और पंचायत के पदाधिकारी किसी ने भी इसे गंभीरता से नहीं लिया। फलस्वरुप झंडा इसी स्वरुप में लहराता रहा। इस बात की जानकारी वरीय अधिकारियों को भी दिए जाने की बात स्थानीय लोगों ने कही है। अब इस मामले के तूल पकड़ जाने के बाद भीतिया पंचायत के मुखिया और ग्राम पंचायत के आधिकारिक तबके के लोग इस मामले से अपना पल्ला झाड़ कर इसके लिए दूसरों को दोषी ठहराना का प्रयास करने लगे हैं।

 

Loading...