Super Exclusive (वीडियो)पटना में ढाई लाख की लूट की घटना को चोरी के FIR में तब्दील करने खातिर थाने में पीड़ित और उसके साथियों के साथ जमकर हुआ दुर्व्यवहार,गालीगलौज और धमकीभरा व्यवहार

पटना Live डेस्क। बिहार पुलिस के आला अधिकारियों के बार बार लगातार निर्देश और फरमान के बावजूद पुलिस वाले सुधारने का नाम नही ले रहे है। थानों में आमआदमी के साथ दुर्व्यवहार और गालीगलौज़ का सिलसिला रुकने का नाम नही ले रहा है। रोज़ ब रोज़ खाकी के दबंगई और प्रताड़ना की खबरे सूबे के समाचार जगत की सुर्खिया बटोर रही है। हद तो ये की सूबे के दूर दराज के जिले की बात कौन करे पुलिस मुख्यालय की नाक के नीचे ख़ाकी के दबंगई और गालीबाजी के किस्से आम हो गए है। इसी क्रम में राजधानी पटना जिला अंतगर्त आने वाले थाना क्षेत्र में सोमवार की शाम हथियार बंद अपराधियों द्वारा लगभग ढाई लाख रुपये कैश लूट लिया गया और जब पीड़ित FIR करने थाना पहुचा तो घण्टो पीड़ित और उसके साथियों संग थाने के स्टाफ द्वारा पहले तो दबाव डाला गया कि लूट मत लिखो चोरी हो गई लिख कर दो। पर पीड़ित जब थाने के मौजूद अधिकारी के मन मुताबिक लिखने को तैयार नही हुआ तो पहले तो लूट के शिकार को ही डराया धमकाया गया कि तुम फस जाओगे, तब भी जब बात नही बनी तो गालीगलौज किया गया और धकियाकर पीड़ित के साथियों को थाने से खदेड़ दिया गया। यानी बिहार पुलिस का “पीपल्स फ्रेंडली” चेहरा महज एक जुमला है, जो हकीकत से कोसो दूर है।

ढाई लाख कैश की लूट

पटना पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा थानेदारों को लगातार और बारम्बार क्षेत्र में पेट्रोलिंग और अपराध नियंत्रण ख़ातिर निर्देश दिए जाते है,पर हालात का सच बढ़ते अपराध के आंकड़े बता रहे है कि पेट्रोलिंग को थानेदारों द्वारा कितनी तवज्जो दी जा रही है। इसी क्रम में फतुहा थाना क्षेत्र में सोमवार की शाम लगभग 7 बजे फोरलेन पर डुमरी के नज़दीक उजले रंग की टीवीएस अपाची पर सवार तीन अपराधियों ने पटना के मनीष साड़ी इम्पोरियम के कलेक्शन स्टाफ शिवजी प्रसाद उनका पिट्ठू बैग लूट लिया जिसमे ढाई कैश और ढाई लाख का चेक था।
लूट के शिकार शिवजी प्रसाद पिछले 20 साल से पटना के मनीष साड़ी नामक प्रतिष्ठान में काम करते है। इनका काम राजधानी के आसपास के दुकानदारों से तगादा कर पेमेंट लाना है। इसी क्रम शिवजी सोमवार को भी बाइक से इस्लामपुर समेत अन्य जगहों से तगादा कर ढाई लाख कैश और ढाई लाख का चेक लेकर फोरलेन से पटना लौट रहे थे। जब वो फोरलेन पर डुमरी के पास पहुचे तो अचानक एक बाइक पर सवार 3 युवकों ने शिवजी की बाइक को ओवरटेक कर हाइवे पर रोक लिया और फिर हथियार के बल पर उनसे उनका पिठ्ठू बैग छीनने लगे। इस दौरान अपराधियों ने शिवजी की पिटाई भी की और फिर उनका पिट्ठू बैग,मोबाइल, पर्स और हाथ की अंगूठी भी छीन लिया और फिर पटना की ओर फरार हो गए। हादसे के बाद बदहवाश शिवजी किसी तरह बाइक से पटना की ओर बढ़े और हाइवे पर एक जगह उजाले में खोमचे के समीप एक व्यक्ति से मोबाइल मांगा … सुनिए आगे का वाकया पीड़ित की जुबानी ..