पटना में पकड़ी गई शराब मालखाने से हो जाती है कम,थानेदारों पर होगी कार्रवाई, मुंह भी सूंघा जाएगा

12

पटना Live डेस्क। पटना पुलिस की कारगुजारियों और पब्लिक फ्रेंडली होने के तमाम निर्देशों के बाद भी हम नही सुधरेंगे की तर्ज पर जिला पुलिस की करतूतों की लगातार मिलती शिकायतों से खासे नाराज और व्यथित एसएसपी मनु महाराज मंगलवार को पूरे फॉर्म में थे। यू तो क्राइम मीटिंग में मुख्य एजेंडा आसन्न नगर निकाय चुनाव को शांतिपूर्वक संपन्न कराना था। लेकिन बात चली तो मनु महाराज ने तमाम बातों और मिल रही शिकायतों को बिंदुवार कहना शुरू किया। अपनी बातों को स्पष्ट करते हुए एसएसपी ने थानेदारों को कहा– पब्लिक फ्रेंडली बनिए,कोई कोताही बर्दाश्त नहीं होगी।

उल्लेखनीय है कि एसएसपी को लगातार सूचना मिल रही थी कि राजधानी के बहुत से थानेदार पब्लिक का कॉल ही रिसीव नहीं करते हैं। उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि पब्लिक कभी भी कॉल कर सकती है।सभी थानेदारों को कॉल रिसीव करना होगा। तरीके से बात कीजिये और समस्या का समाधान करिए। अब यदि फोन न उठाने की शिकायत मिलीं तो खैर नहीं।सभी थानों में सीनियर सिटीजन सेल क्रियान्वित रहे।
सूबे में जारी पूर्ण शराबबंदी को लेकर एसएसपी खासे सख्त है। राजधानी में अभियान को लेकर भी बहुत सख्त रहते कहा,”ऐसी शिकायतें बर्दाश्त के बाहर है कि जब्त की गयी शराब मालखाने में कम हो जा रही है। बोतल फूट जाने का आधार बनाकर बचा जा रहा है।उन्होंने दो टूक कह दिया कि यह नहीं चलेगा, हम कभी भी थाने पहुंच सकते हैं और यह जान लीजिये कि सिपाही से लेकर थानेदार तक की जांच ब्रेथ एनालाईजर से तुरत करा देंगे इसलिए बहाने गढ़ने बंद कर दीजिये।
एसएसपी पटना का सख्त निर्देश और खुल्ला ऐलान की कभी भी थाने में पहुच कर थानेदार से लेकर सिपाही तक कि जांच ब्रेथ एनलाईअजर से तुरंत करा सकते है का असर भी जल्द दिखेगा ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है।