बड़ी खबर – स्वच्छता अभियान के नाम पर मासूम की बलि, ये कैसा अभियान है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

अमित कुमार, संवाददाता, मोतिहारी

पटना Live डेस्क। हिंदुस्तान के वजीरे आज़म नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान का साईड इफेक्ट कहें या अवाम की क्रूर मानसिकता का परिणाम।जिस धरती ने मोहनदास को महात्मा बनाया और विश्व को अहिंसा से सत्याग्रह का मार्ग दिखाया। आख़िर उसका गुनाह क्या था? आखिर क्यों एक मासूम बच्ची की स्वच्छता के नाम पर बेरहमी से पीट पीट कर कत्ल कर दिया गया मोदी साहब?

                   यह रोंगटे खड़े कर देने वाला मामला जुड़ा हुआ है मोतिहारी शहर के बेलबनवा मोहल्ले से जहाँ दबंगों ने एक मासूम की पीट-पीटकर इस लिए हत्या कर दी, क्योंकि वह मासूम शौच करने के लिए दुकान के पीछे चली गयी और शौच कर दिया। लिहाजा बच्ची का शौच करना दुकानदार को इतना नागवार गुजरा कि दुकान-दार ने अपने परिवार समेत बच्ची की इतनी पिटाई की कि वह अस्पताल पहुंच गयी जहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी।बच्ची की मौत से आक्रोशित लोग उसके शव के साथ नगर थाना पहुंचे और हंगामा करने लगे।


दरअसल घटना विगत नौ मई की है।जिस दिन बेलबनवा के रहने वाले बिल्टू सहनी की नौ साल की बेटी महिमा कुमारी ने नवल सहनी के दुकान के पीछे शौच कर दिया। बच्ची के इस हरकत पर नवल सहनी आग बबूला हो गया और बच्ची को पीटने लगा। इसी बीच उसके परिवार के अन्य लोग भी आये और उन लोगों ने भी मासूम को खूब पीटा। उनकी क्रूरता और बेरहम पिटाई का नतीजा ये हुया की मासूम गंभीर रूप से जख्मी हो गय। जिसे इलाज के लिए एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया।जहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। महिमा की मौत से आक्रोशित परिजनों ने मासूम के शव को नगर थाना लाया और तीन लोगों को आरोपित करते हुए प्राथमिकी दर्ज कराया है। वही मासूम की मौत से सुदबुध खो चुकी माँ बार बार भोजपुरी में कह रही थी – मारे घरी कहत रहे लो कि सरकार साफ सफाई करे के कहत बा आ ई हमरे दुकान के लगी गंदा कर देहलस ( सरकार साफ़ सफाई के लिए कहती है और इसने हमारा दुकान गंदा कर दिया) मासूम की मौत के बाद आरोपी फरार है और पुलिस जांच में जुटी है।