बड़ी खबर- गया में SSP ने घूस के पैसे के साथ  किया था गिरफ्तार, अब आई खबर चाकन्द थानाध्यक्ष कस्टडी से हो गया फरार

0
354

पटना Live डेस्क। बिहार सरकार की पूर्ण शराबबंदी अभियान की सफलता पर सवालिया निशान लगाने वाले खाकी वाले ही है। यह बात विगत 2 वर्षों में लगातार और कई बार साबित हो चुका है। ताजा मामला भी इस कि गवाही देता है। दरअसल गया जिले के चाकंद थानाध्यक्ष पवन कुमार को शनिवार को घूस में लिये गये पैसों के साथ एसएसपी राजीव मिश्रा ने गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष के पास से शराब माफ़िया और धंधेबाजों को छोड़ने के लिए दी गई डेढ़ लाख रुपये में से एक लाख 16 हजार बरामद कर लिया गया।लेकिन अब इस मामले में आई है एक बेहद चौकाने वाली खबर एसएसपी द्वारा हिरासत में लेने के कुछ ही देर बाद ही थानाध्यक पवन कुमार फरार हो गया है। पवन कुमार के फरार होने पर एसएसपी के निर्देश पर थानाध्यक्ष के खिलाफ भागने का मामला दर्ज किया गया है।

थानेदार की घूसखोरी की शिकायत स्थानीय लोगों से पूरे मामले की सूचना मिलने पर शनिवार को एसएसपी राजीव मिश्रा चाकंद थाना पहुंचे। एसएसपी ने थानाध्यक्ष पवन कुमार के कमरे से बेड के नीचे रखे एक लाख 16 हजार रुपये बरामद किया। थानाध्यक्ष के कमरे से घूस की रकम मिलने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

जानकारी के अनुसार एसएसपी राजीव मिश्रा घूस की रकम के साथ पकड़े गए थानाध्यक्ष पवन कुमार को लेकर गया आये थे। यहां थानाध्यक्ष से डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर संजीत कुमार प्रभात, चंदौती के सर्किल इंस्पेक्टर अशोक कुमार गुप्ता आदि पूछताछ कर एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई में लगे थे। इसी दौरान पवन मौके पर रहे अधिकारियों को चकमा देकर भाग निकला। थानाध्यक्ष के भागने की पुष्टि करते हुए एसएसपी ने बताया कि इस मामले में अलग से एक एफआईआर दर्ज कर थानेदार की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई है।

क्या था पूरा मामला कैसे हुई थी थानेदार की गिरफ्तारी जाने -बड़ी खबर –

नीतीश सरकार की शराब बंदी को फेल करता थानेदार गिरफ्तार, एसएसपी गया राजीव मिश्र ने स्वयं रकम किया बरामद

बड़ी खबर – नीतीश सरकार की शराब बंदी को फेल करता थानेदार गिरफ्तार, एसएसपी गया राजीव मिश्र ने स्वयं रकम किया बरामद