लालु के बचाव में उतरे शिवानंद तिवारी बोले – अगर बिहार में कोई नेता ये कहे कि जेल से उन्हें फोन नहीं आता तो वह झूठा है।

13

पटना Live डेस्क। राजद सुप्रीमो लालू यादव और पूर्व सांसद सिवान के कथित बातचीत के ऑडियो टेप के वायरल होने के बाद से बिहार में मचे सियासी बवंडर थमने का नाम नही ले रहा है। वही विपक्ष का सियायी बयानबाजी का सिलसिला लगातार जारी है। इसी कड़ी में लालू प्रसाद से मुलाकात करने के बाद बिहार के पूर्व मंत्री शिवानन्द तिवारी ने टेप प्रकरण पर उनका बचाव किया और कहा, बातचीत में दंगा रुकवाने की बात हो रही थी। साथ ही शिवानन्द ने कहा अगर बिहार में कोई नेता ये कहे कि जेल से उन्हें फोन नहीं आता तो वह झूठा है। इन सबके बीच मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अपर महाधिवक्ता ने लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की है। इस दौरान टेप प्रकरण को लेकर दोनों के बीच बातचीत की संभावना जतायी जा रही है।

उधर, राजद विधायक रामानुज प्रसाद ने रविवार को आरोप लगाते हुए कहा कि लालू प्रसाद का फोन टेप हो रहा है,जो बेहद गंभीर मामला है। लालू की पार्टी के विधायक रामानुज ने कहा कि अब फोन पर बात करना सुरक्षित नहीं रहा है।विधायक ने इसे निजता पर हमला बताते हुए पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है।
राजद विधायक के इस बयान का जीतन राम मांझी की पार्टी हम ने भी समर्थन कर दिया है। हम प्रवक्‍ता दानिश रिजवान ने आरोप लगाया कि राजद ही नहीं, बल्कि विपक्षी दलों के नेताओं के टेलिफोन भी टेप किए जा रहे हैं। उन्‍होंने आरोप लगाया कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर उनके करीबी लोग टेलिफोन टेप करने में लगे हैं।