शरद गुट राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में नहीं होगा शामिल,करेगा दूसरी बैठक,रमई ने भी साधा सीएम पर निशाना

पटना Live डेस्क. नीतीश कुमार के महागठबंधन सरकार को तोड़कर एनडीए के साथ सरकार बनाने के बाद जेडीयू का आंतरिक कलह चरम पर है. नीतीश कुमार के फैसले से पार्टी नेता शरद यादव नाराज हैं और वो मुख्यमंत्री को खुली चुनौती दे रहे हैं. बात जेडीयू के दो फाड़ होने तक पहुंच चुकी है. असली और नकली जेडीयू की लड़ाई शुरु हो चुकी है. पार्टी दो गुटों में बंट चुकी है. दोनों गुट खुद को असली जेडीयू करार देने पर तुला है. पार्टी सिंबल के लिए शरद गुट चुनाव आयोग जाने की धमकी दे रहा है. वहीं शरद के साथ एक और बागी नेता अली अनवर ने कहा कि असली जेडीयू शरद यादव के साथ है, तो राज्य सरकार के पूर्व मंत्री रमई राम ने नीतीश कुमार को कनफ्यूज्ड नेता करार दिया है.रमई राम ने कहा कि नीतीश कुमार को खुद नहीं पता कि वो क्या करेंगे और क्या नहीं करेंगे.

वहीं यह बात बिल्कुल साफ है कि शरद यादव और दूसरे नेता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल नहीं होंगे. जदयू के बागी नेता और राज्‍यसभा सांसद अली अनवर ने कहा कि शरद यादव समान विचारधाराओं वाले नेताओं के साथ श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में बैठक करेंगे जबकि सीएम हाउस में आयोजित जदयू की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने शरद खेमे का कोई नेता नहीं जायेगा. अली अनवर यहीं नहीं रूके. उन्‍होंने कहा कि शरद यादव के साथ ही असली जदयू है. हम जल्‍द ही इस बात को लेकर चुनाव आयोग में भी जाएंगे.