गठबंधन टूटने में बीजेपी का कोई हाथ नहीं,राजद के चलते गिरी सरकार-अमित शाह

पटना Live डेस्क. बिहार में नीतीश कुमार के साथ सत्ता संभालने वाली पर बीजेपी पर राजद ने सेटिंग कर सत्ता हथियाने का आरोप लगाया था. इसके जवाब में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राजद के आरोपों को खारिज किया है और कहा है कि बीजेपी ने बिहार में गठबंधन टूटने में कोई भूमिका नहीं निभाई है, इसमें हमारा कोई हाथ नहीं है. लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान अमित शाह ने कहा कि नीतीश कुमार ने लालू का साथ नहीं छोड़ा था, लालू ने ही नीतीश का साथ छोड़ा और महागठबंधन टूटा. अमित शाह ने कहा कि यादव और दलित सभी हमारे कार्यकर्ता हैं. ऐसे में यह आरोप ठीक नहीं है.

अमित शाह के इस बयान पर राजद ने भी पलटवार किया है. आरजेडी नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने कहा कि, यह सब इन लोगों की रची गई साजिश के तहत हुआ है और ये कहते है आरोप भी ना लगाएं. ऐसा कैसे हो सकता है? इनलोगों ने साजिश रची पूरी स्क्रिप्ट तैयार की और खेल खेला, नीतीश कुमार और बीजेपी क्या जवाब दें. जवाब दे सकते तो ये जवाब दें कि कैसे आनन-फानन में इस्तीफा दिया एक के बाद एक बैठकें की और रातों रात सब डील फाइनल कर ली.

उन्होंने कहा कि जनता के सामने आना चाहिए था चुनाव करा लेते या हमें मौका देते तब तो हम साबित करते कि जनादेश किससे पास है? लेकिन ये डरपोक लोग धोखेबाजी करने की पूरी तरह सोच चुके थे और प्लानिंग करके महागठबंधन तोड़ा और जो नीतीश कुमार एक बार बीजेपी को त्याग चुके थे फिर जाकर सट गए.