Big Breaking- तेजस्वी यादव का नेतृत्व कुबूल नही वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता पद से हटाये गए अशोक सिन्हा राजद को कहा अलविदा

साभार -शशि भूषण, वरीय पत्रकार

पटना Live डेस्क। 26 जून 2017 को राजद ने कार्रवाई करते हुए पार्टी प्रवक्ता रहे अशोक कुमार सिन्हा को पद से हटा दिया था। कारण बना था तात्कालिक बिहार के महागठबंधन की पार्टियों के बीच बयानबाजी।तब राजद प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने लेटर जारी करते हुए कहा था कि पार्टी के नियमों का पालन नहीं करने पर अशोक सिन्हा के खिलाफ कार्रवाई की गई।
तब से राजद और सूबे की सियासत के बियाबान में चुप्पी साध कर गुमनाम की तरह रहे अशोक कुमार सिन्हा ने आखिरकार अपनी 7 महीने की चुप्पी को धमाकेदार अंदाज़ में बिहार के चर्चित पत्रकार शशि भूषण से फेसबुक live के जरिये बातचीत में राजद से नाता तोड़ने का ऐलान कर दिया हैं। साथ ही बड़ा बयान देते हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री और राजद के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बनाये गए तेजस्वी यादव का नेतृत्व कुबूल नही करने का अपना स्पष्ट मंतव्य जाहिर किया। अशोक सिन्हा के इस बयान के कई सियासी मायने और मतलब निकाले जायेंगे और फिर सियासी बिसात पर कैसे यह बगावत आगे बढ़ेगी यह भी देखने योग्य होगा।