Super Exclusive – (खुलासा) “मृत का शव लेकर लौट रहा था एम्बुलेंस” नाकि हाजीपुर में राजद बंदी के दौरान हुई एम्बुलेंस में मौत

0
88

पटना Live डेस्क। राजद के बिहार बंद के दौरान एक खबर ने बहुत तेजी से पाव पसरा और देखते ही देखते मीडिया की सुर्खियों में छा गए।तमाम समाचार के माध्यमो के जरिये  दिखाया जा रहा है की पटना हाजीपुर पुल पर एम्बुलेंस राजद के बंद के दौरान नहीं जाने देने के कारण एक बीमार महिला बकी मौत हो गई। खबर बड़ी थी लिहाज़ा पटना Live ने घटना के बाबत जानकारी इकट्ठा करनी शुरू की तो मामला शुरुआत में ही गड़बड़ प्रतीत होने लगा। खैर, अब जरूरी था कि सच का पता लगाया जाए। जब हमने अपनी जांच की तो जो सच सामने आया वो चौकाने वाला रहा।
पूरे दिन चली यह खबर का अफवाह की तरह जारी रहा की राजद द्वारा बिहार बंद के दौरान गाँधी सेतु पुल पर एक एम्बुलेंस फंसी रही और इस दौरान एक महिला मरीज की मौत हो गई।


लेकिन देर शाम पुलिस महकमें ने इस ख़बर की हकीकत सामने लाने का काम कर दिया पुलिस महकमें के जाच के मुताबिक महिला की मौत गत रात ही पटना के दक्ष हार्ट केयर हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हो गई थी।आज वो अपने गाँव जो कि हाजीपुर जिले के महानार में है वहाँ उनके परिजन लेकर जा रहे थे। इसी दौरान इस बात की रियूमर उड़ा दिया गया कि महिला की मौत जाम के कारण हो गई हालांकि अब मामला पूरी तौर पर दस्तावेजो के आधार पर साफ हो गई है ये महज अफ़वाह थी। वही हम आपको दिखाते है परिजनों के द्वारा कहा गया सच भी। लेकिन इस तथातकथित अफवाह रूपी सच्चाई की तलाश में हम ही नही बल्कि वैशाली जिला प्रशासन भी भीड़ था और पटना Live के सच पर एसडीओ वैशाली की जांच के बाद दी गई फ़ाइनल रिपोर्ट जो गंगा ब्रिज थाना में मौखिक रूप से दी गई वो भी मुहर लगाती है। बकौल SDO वैशाली के द्वारा जांचोपरांत यही बात कही गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है। वही एक निजी न्यूज़ चैनल को भी इस बाबत बाइट दी गई है। जिसे पता नही क्यो अब तक सामने नही लाया जा रहा है।