BiG News (वीडियो) पटना में दारोगा का अंग्रेजी में फरमान न्यूज़ पोर्टल पत्रकार (पोर्टल) नो अलाउ, सुन लीजिए दरोगा का फरमान

27

#पटना के थाने में दरोगा राज़ कायम
#बिहटा थाना में पदस्थापित दरोग़ा विजय पाण्डेय जिनका तबादला औरंगाबाद हो चुका है पूरी ठसक के साथ थाने में है मौजुद
#आइजी पटना प्रक्षेत्र के सख़्त आदेश के बावजूद भी अभी तक बिहटा थाना में जमे हुए हैं।
#खुल न जाये गोरखधंधा जारी किया अजीबो गरीब फरमान मोबाइल पत्रकार(पोर्टल)को नो एलाउ

पटना Live डेस्क। देश के प्रधानमंत्री मुल्क में डिजीटल
इंडिया का अभियान चला रहे है।लेकिन बिहार के बिहटा थाने के एक दरोगा विजय पाण्डेय ने पत्रकारों के लिए एक मौखिक फ़रमान जारी कर दिया है।दरोग़ा जी ने पोर्टल पत्रकार को खुली चुनौती देते हुए कहा की थाना में केवल अख़बार रिपोर्टर का ही वैल्यू है। यहाँ मोबाइल (पोर्टल) पत्रकार का “नो एलाउ” है। ये हालात तब है जब थानो में दरोगा राज़ को खत्म करने की कवायद बिहार पुलिस मुख्यालय बेहद सक्रिय है। लेकिन बिहटा थाना में पदस्थापित दरोग़ा विजय पाण्डेय जिनका तबादला औरंगाबाद हो चुका है। जबकि आइजी पटना प्रक्षेत्र के सख़्त आदेश के बावजूद भी अभी तक बिहटा थाना में जमे हुए हैं। न केवल जमे हुए है बल्कि पूरी ठसक के साथ थाने में न केवल जमे हुए ही बल्कि तुगलकी फरमान भी जारी कर रहे है। दरअसल दरोगा के गोरखधंधा की फेरहस्ति बड़ी लंबी है। कही पोल न खुल जाये दरोगा ने अजीबो गरीब फरमान मौखिक तौर पर जारी किया है कि मोबाइल पत्रकार(पोर्टल)को “नो एलाउ”। सुनिए और खुद तय करिए क्या ये जायजा है?

Loading...