बड़ी खबर (वीडियो) औरंगाबाद में बालू लदे ट्रक ने युवक को रौंदा, गुस्साई भीड़ ने थाने पर किया पथराव डेढ़ दर्जन वाहनों को फूंका

पटना Live डेस्क। औरंगाबाद के बारुण थाना क्षेत्र के बारुण-नबीनगर मुख्य पथ के झूमर डिहरा गांव के समीप बालू लदे वाहन ने गुरुवार की सुबह एक युवक को रौंद डाला जिससे युवक की मौत हो गयी। मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतक के परिजन के  साथ मिल कर सड़क जाम कर दिया और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। लोगों का कहना था कि इस मार्ग से प्रतिदिन हजारों की संख्या में अवैध गाड़ियां बालू से ओवरलोड होकर गुरती है,लेकिन इसकी रोकथाम के लिए ना तो जिला प्रशासन कोई कार्रवाई करता है और ना ही पुलिस प्रशासन। ऐसे में हमेशा यहां पर ग्रामीण हादसे का शिकार होते रहते हैं। आक्रोशितों द्वारा सड़क जाम करने से बारुण-नबीनगर मुख्य पथ पर आवागमन पूरी तरह से ठप हो गया। वहीं, मौत की सूचना मिलते ही बारुण थाने की पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर थाने पर लाने लगी।पुलिस द्वारा शव उठाये जाने पर ग्रामीण आक्रोशित हो गये और जमकर पत्थरबाजी की। किसी तरह मामले को शांत कर शव लेकर पुलिस थाने पहुंची।
उसके बाद कुछ और आक्रोशित अन्य ग्रामीणों के साथ थाने पहुंचे और थाने को घेर कर पत्थरबाजी शुरू कर दी।बताया जाता है कि लोगों के आक्रोश एवं पत्थर बाजों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग भी की।हालांकि, फायरिंग की पुष्टि अधिकारी स्तर से नहीं की गयी है।
आक्रोशित ग्रामीणों ने शव के साथ बारूण थाना का घेराव कर न सिर्फ जमकर पत्थरबाजी की बल्कि थाना परिसर में रखे डेढ़ दर्जन से भी अधिक वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया । आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस पर ट्रक चालक से मिलीभगत कर उसे मौके से भगा दिये जाने का आरोप भी लगाया ।
इधर पुलिस ने भीड़ को अनियंत्रित होता देख बलपूर्वक उन्हें खदेड़ दिया। बाद में जिला मुख्यालय से सदर एसडीओ तथा एसडीपीओ भारी संख्या में पुलिसबलों के साथ बारूण पहुंचे और तब जाकर मामला शांत हो सका। इस बीच पुलिसिया कार्रवाई में 28 उपद्रवियों को जहां गिरफ्तार कर लिया गया है।वहीं दो दर्जन से भी अधिक लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पुछताछ की जा रही है ।
गौरतलब है कि थाने पर उपद्रव की इस घटना में कुछ पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं जिनका इलाज निजी अस्पताल में कराया जा रहा है । फिलहाल स्थिीति नियंत्रण में है मगर पुरे इलाके में तनाव की स्थिीति बरकरार है ।