पटना में जल्द साकार होगा मेट्रो रेल का सपना!

बिहार में भी मेट्रो का सपना जल्द ही साकार होगा. इस मामले में राज्य सरकार ने पहल शुरु कर दी है. राज्य सरकार ऩे इस परियोजना के लिए पटना मेट्रो रेल परियोजना के तहत स्पेशल पर्पज व्हीकल के गठन की कोशिश शुरु की है. नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव ने विभागों के उच्चाधिकारियों को एसपीवी के प्रस्ताव को तैयार करने का निर्देश दिया है. एसपीवी के गठन के बाद इसकी स्वीकृति का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा जाएगा. केंद्र से मंजूरी मिलने के बाद मेट्रो के लिए एक अलग कंपनी के गठन करने की तैयारी चल रही है जिसका नाम पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेशन हो सकता है. इस मामले पर नगर विकास एवं आवास विभाग के विशेष सचिव संजय दयाल के मुताबिक पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेश पर केंद्र और राज्य सरकार का साझा स्वामित्व होगा. जानकारी के मुताबिक मेट्रो रेल परियोजना का डीपीआर तैयार करने वाली कंपनी ने इस पर सत्रह हजार करोड़ रुपया खर्च होने का अनुमान लगाया है.

एसपीवी क्या है?

किसी भी बड़े प्रोजेक्ट को चलाने के लिए एसपीवी के गठन की जरुरत होती है. संबंधित विभागों के शीर्ष अधिकारियों को शामिल कर इसका गठन किया जाता है. जिसके उपर प्रोजेक्ट की सारी जिम्मेदारी और जवाबदेही होती है.