मुजफ्फरपुर: बाढ़ग्रस्त इलाकों में लोगों को दोहरी मार,पीएचसी में निर्देशों के बावजूद डॉक्टर रहते हैं गायब,मरीजों को हो रही भारी परेशानी

मनोज/मुजफ्फरपुर

पटना Live डेस्क. बिहार में बाढ़ की हालत दिनोंदिन गंभीर होती जा रही है. बिगड़ती स्थिति को देख खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अधिकारियों की विशेष बैठक बुला रहे हैं और निर्देश दे रहे हैं. कई इलाकों में डॉक्टरों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. लेकिन बाढ़ की विभीषिका झेल रहे कुछ इलाके ऐसे भी हैं जहां सरकार के तमाम निर्देश मखौल साबित हो रहे हैं. मामला जिले के औराई प्रखंड मुख्यालय स्थित पीएचसी का है जहां सैंकड़ों मरीज इलाज के बगैर वापस जा रहे हैं. हालांकि जिलाधिकारी ने सभी डॉक्टरों की छुट्टियां रद्द करने का निर्देश जारी किया है लेकिन उऩ निर्देशों की खुलेआम धज्जियां उड़ायी जा रही हैं. पीएचसी में रोजाना सैंकड़ों की तादाद में मरीज पहुंच रहे हैं लेकिन यहां डॉक्टर नदारद रहते हैं जिसके चलते लोगों को वापस जाना पड़ता है.

उल्लेखनीय है कि औराई मुजफ्फरपुर जिले का सर्वाधिक बाढ प्रभावित इलाका है. पीएचसी में डॉक्टरों के मौजूद नहीं रहने के चलते लोगों को सत्तर किलोमीटर दूर तय कर शहर जाना पड़ता है. हकीकत यह है कि औराई प्रखंड मे एक भी अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र पर चिकित्सक व एएनएम ड्यूटी पर मौजूद नही रहते हैं जिसके चलते मरीजों को भारी कष्ट उठाना पड़ता है.

हालांकि पिछली बार औराई विधायक सुरेन्द्र राय ने समीक्षा बैठक कर स्वास्थ्य विभाग की रवैये में सुधार लाने की बात कही थी और पूर्व पीएचसी प्रभारी द्वारा जल्द ही सुधार करने की बात भी कही गई थी, लेकिन कुछ दिनो के बाद ही औराई पीएचसी में दोबारा लापरवाही का दौर शुरु हो गया.