छोटा शकील की मौत की खबर, मुंबई पुलिस के बयान ने चौंकाया

0
36

पटना Live डेस्क। दाऊद के सबसे बड़े सिपहसालार और बेहद विश्वासी अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील की मौत की खबर को लेकर अफवाहें जारी हैं। हालांकि, अंडरवर्ल्ड पर नजर रखने वाले अधिकारियों का कहना है कि इस खबर में सचाई नहीं है। पुलिस सूत्रों को शक है कि शकील के खिलाफ शायद अनीस ऐसी खबरें उड़वा रहा है।अनीस और शकील में दो दशक से मतभेद हैं।
इस खबर के बारे में मुंबई पुलिस आयुक्त दत्तात्रय पडसलगीकर ने कहा कि हमारे पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। वहीं, महाराष्ट्र एटीएस के प्रमुख अतुलचंद्र कुलकर्णी ने भी कहा कि उन्हें इसके बारे में पता नहीं है।वायरल खबरअंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का दायां हाथ कहा जाने वाला छोटा शकील इस वर्ष की शुरुआत में ही मर चुका है और यह बात सामने आई एक ऑडियो क्लिप के बाद से जोर पकड़ रही है। मोहम्मद शकील बाबू मियां शेख उर्फ छोटा शकील के बारे में यह जानकारी एक मुखबिर ने मीडिया को दी है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उसके पास एक ऐसी ऑडियो क्लिप है जिसमें शकील गैंग के मेंबर बिलाल और मुंबई में शकील के रिश्तेदार के बीच बातचीत का ब्यौंरा है लेकिन इस ऑडियो क्लिप की कोई पुष्टि नहीं की जा सकती है। शुरुआत मे इस खबर पर दिल्ली में राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े लोगों और मुंबई पुलिस के टॉप अधिकारी न तो इस जानकारी से इनकार कर रहे थे और न ही इस जानकारी पर रजामंदी जाहिर कर रहे थे।अब एसआई ने मरवाया शकील को                                                अंडरवर्ल्ड से जुड़ें सूत्रों की ओर से जानकारी दी गई है उसके मुताबिक 57 वर्ष के शकील की मौत 6 जनवरी को इस्लामाबाद में हुई है।उनका कहना है कि शकील कुख्यात गैंग ओडेस्सा के सदस्यों से मिलने इस्लामाबाद गया था।उसकी मौत पर दो तरह की बातें कहीं जा रही हैं। जो पहली जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक शकील को हार्ट अटैक आया था। उसके बाद उसके बॉडी गार्ड्स उसे लेकर रावलपिंडी स्थित कम्बाइन्ड मेडिकल हॉस्पिटल पहुंचे और यहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। वही, जो दूसरी कहानी उसकी मौत से जुड़ी है उसके तहत पाकिस्तान की इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई ने ओडेस्सा के साथ मिलकर शकील को मरवा दिया क्योंकि उनके लिए शकील एक बड़ी परेशानी बनता जा रही था।                                                     महज 20 लोगों को ही मौत की जानकारी

कहा जा रहा है कि दो दिनों तक शकील का शव मॉर्चयूरी में रखा रहा और फिर एक सी-130 एयरक्राफ्ट से इसे कराची लाया गया।।यहीं पर डिफेंस हाउसिंग अथॉरिटी के कब्रिस्तान में उसे सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। इसके तुरंत बाद शकीन की दूसरी पत्नी आएशा और उसके परिवार के एक और सदस्य को घर खाली करने को कह दिया गया जो कि डिफेंस हाउसिंग अथॉरिटी के डी-48, 15वीं गली, खैयाबान सेहर में रह रहे थे। यहां से निकलकर पत्नी और परिवार का एक और सदस्य लाहौर में आईएसआई की ओर से दिए गए घर में रहने को चले गए। शकील की दो पत्नियां, एक बेटा और दो बेटियां और एक पोती है।                                                        दो बार अस्पताल में भर्ती हुआ दाऊद                शकील की मौत की खबर दाऊद ने दो दिनों बाद सबको दी। सिर्फ 20 लोगों को ही उसकी मौत के बारे में मालूम है। अंडरवर्ल्ड के सूत्रों की मानें तो आईएसआई शकील की मौत को राज ही रखना चाहती थी। कहा जा रहा है कि शकील की मौत के बाद से दाऊद डिप्रेशन में था और उसे जनवरी और फिर मार्च में अस्पताल में भर्ती कराना पड़ गया था। इसके बाद दाऊद भारत लौटने के तरीकों के बारे में सोचने लगा। सूत्रों की ओर से यह भी कहा गया कि शकील के करीबी बिलाल, मोहम्मद राशिद, इकबाल सलीम, युसूफ रजा और परवेज ख्‍वाजा डी कंपनी को छोड़कर चले गए हैं। ये सभी पाकिस्तानी नागरिक हैं।
उल्लेखनीय है कि अभी एक हफ्ते पूर्व 14 दिसंबर को यह खबर आई थी कि छोटा शकील अब दाऊद इब्राहिम से अलग हो गया है। इस झगड़े की वजह अनीस इब्राहिम को बताया जा रहा था। माना जा रहा है कि दाऊद अपना अवैध कारोबार सगे भाई अनीस को सौंपने जा रहा है। इसे लेकर छोटा शकील और दाऊद के रास्ते अलग हो गए हैं।


अनीस और शकील के बीच झगड़ा काफी लंबे समय से चल रहा है। हालांकि, दाऊद ने दोनों को संभाले रखा। मगर, तीन महीने पहले एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने इकबाल कासकर को गिरफ्तार कर लिया था, जिसके बाद दाऊद और शकील के बीच यह झगड़ा अपने चरम पर पहुंच गया था।