बडी खबर —  लालू का जेल से निकलना मुश्किल अब तेजस्वी भी जल्द जायेंगे बोले मंत्री ललन सिंह

पटना Live डेस्क। बिहार सरकार के बेहद ताकतवर मंत्रियों में शुमार जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने मोकामा के मरांची में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए बड़ा बयान दिया है। ललन सिंह के बयान को लेकर बड़े सियासी मतलब निकाले जा रहे है। आयोजित सम्मान समारोह ललन सिंह राजद सुप्रीमो के चारा घोटाले में सज़ावार होकर रांची स्थित होटवार जेल में बंद होने का उल्लेख करते हुये लालू प्रसाद यादव को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यादव का इस साल जेल से निकलना मुश्किल है। वही तेजस्वी यादव का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि महीना डेढ़ महीना दो महीना के अंदर ही वह भी कानून के शिकंजे में आएगा ही और बहुत ज्यादा दिनों तक वह बचने वाला नहीं है।
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के जल संसाधन मंत्री का मरांची गांव में नागरिक अभिनंदन समारोह आयोजित किया गया था। मोकामा टाल में जलजमाव और जल निकासी की समस्या से जूझ रहे किसानों के लिए लाई गई योजनाओं के बाद उनका अभिनंदन समारोह आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में विधान पार्षद नीरज कुमार भी मौजूद थे। यही अपने संबोधन में उन्होंने कहा डेढ़ साल तक लालू को जेल में रहना होगा। अपनी बातों को आगे बढ़ते हुए ललन सिंह ने कहा कि वह किसी का नाम लेना तो नहीं चाहते हैं लेकिन तेजस्वी की तरफ भी इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि वह भी बच नहीं सकते और महीना दो महीना के अंदर ही जेल जाएंगे।
दरअसल लोगों को संबोधित करने के दौरान लालू यादव पर वह निशाना साध रहे थे। इसी दौरान भीड़ से किसी ने तेजस्वी का भी नाम ले लिया। भीड़ से तेजस्वी का नाम आने पर उन्होने कहा कि आप जिसका नाम ले रहे हैं वे उसका नाम लेना भी नहीं चाहते हैं लेकिन महीना डेढ़ महीना दो महीना के अंदर ही वह भी कानून के शिकंजे में आएगा ही और बहुत ज्यादा दिनों तक वह बचने वाला नहीं है।

लालू अपने कर्मो का फल भुगत रहे है।

ललन सिंह ने कहा कि लालू यादव के खिलाफ दर्ज मुकदमों की फेहरिस्त काफी लंबी है और लालू प्रसाद यादव को फिलहाल जमानत नहीं मिल सकती. उन्होंने कहा कि लालू यादव को अभी डेढ़ साल तक जेल में ही रहना होगा और इतनी आसानी से वे बाहर नहीं आने वाले।उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यादव को यदि एक मामले में जमानत मिल भी जाए तब तक दूसरे मामले में सजा हो जाएगी।उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यादव अपने कर्मों का ही फल भोग रहे हैं।