BIG NEWS –  आसरा होम्स मामले में मनीषा और चिरंतन को भेजा जा रहा जेल, शुरुआती जांच के बाद एसएसपी ने लिया निर्णय

0
206

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के राजीव नगर स्थित आसरा होम्स के दो संवासिनों की मौत से जुड़े हाई प्रोफाइल मामले की जांच और कार्रवाई को लेकर सभी में संस्य बना हुआ था। डीएम रवि और एसएसपी मनु महाराज ने लगातार 24 घंटे तक हर पहलू पर जांच करने के बाद सब कुछ स्पष्ट कर दिया हैं। बकौल एसएसपी मनु महाराज के आसरा होम्स के कोषाध्यक्ष चितरंजन और सचिव मनीषा दयाल को जेल भेजने का निर्णय लिया गया है।
एसएसपी मनु महाराज ने घटना प्रकाश में आने के बाद ही स्पष्ट कर दिया था की इस मामले में किसी दोषी को बक्शा नहीं जाएगा। हर पहलू पर जांच करने के बाद एसएसपी मनु महाराज ने सोमवार की संध्या स्पष्ट कर दिया की दोनों संवासिनों की मौत और इसके बाद की कार्रवाई में लापरवाही बरती गयी हैं। तय मानकों और नियमों की पालन में संस्था और डाक्टर ,नर्स द्वारा बड़ी अनदेखी की गयी हैं।
मजिस्ट्रेट द्वारा राजीव नगर थाने में दर्ज कराया गया एफआईआर में आईपीसी की धारा 304 ,409 एवं 420 लगाया गया हैं। इस मामले में हिरासत में लिए गए आसरा होम्स संस्था का कोषाध्यक्ष चितरंजन और सचिव मनीषा दयाल को जेल भेजा जा रहा हैं।
वही फरार,आरोपी डाक्टर और नर्स सहित एक अन्य की भी गिरफ्तारी सुनिश्चित की जाएगी। इसी के तहत डाक्टर के गिरफ्तारी के लिए मेडिकल एसोसिएशन को पत्र लिखा जाएगा।डीएम कुमार रवि और एसएसपी मनु महाराज ने जांच में पाया हैं की आसरा होम्स संस्था द्वारा वित्तीय अनियमितता का भी मामला सामने आया हैं। इस मामले में भी पटना पुलिस जांच करेंगी ।
वही हाई प्रोफाइल लोगों के साथ मनीषा दयाल की तस्वीरों ने बिहार की राजनीति को गरमा दिया हैं। मनीषा का संबंध राजनीतिक पार्टियों के जदयू, भाजपा और राजद से जुड़े नेताओं के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं हैं और सबकी अलग-अलग चौकाने वाली टिप्पणियां आ रहीं हैं । बहरहाल पुलिस अपने जांच को अंजाम तक पहुंचाने में कमर कस ली हैं। स्वतंत्रता दिवस के बाद इस मामले में एसआईटी भी गठन हो सकती हैं ।