कढ़ी रेसिपी : इस नॉर्थ ईस्ट इंडियन कढ़ी को आप खाना चाहेंगे बार-बार……! लगी शर्त?

0
33

पटना Live डेस्क। कढ़ी बिहार में काफी पसंद  किया जाता है। इसे खासकर चावल के  साथ यहाँ के लोग खाते है। कढ़ी को अगर हम चटपटी दाल कहें तो कुछ गलत नहीं होगा क्योंकि ये दाल के सामान ही होता है पर इसका टेस्ट हल्का खट्टा सा होता है।  इसे लोग ऐसे भी पीना पसंद करते हैं। नॉर्थ ईस्ट इंडिया का ये बेहद ख़ास व्यंजन है।  आज हम लेकर प्रस्तुत है कढ़ी की रेसिपी लेकर। अगर आप अपनी मम्मी को सरप्राइज देना चाहती या चाहते है तो आज मौका भी है दस्तूर भी। मतलब आज हम आपको रेसिपी भी बता रहे हैं स्पेशल कढ़ी की और मॉनसून का।  आपके घर वाले इतना टेस्टी कढ़ी आपको बनाते देख चौंक तो जाएंगे पर उससे ज्यादा खुश हो जाएंगे जब चखेंगे आप के हाथ का बनाया हुआ “टेस्टी कढ़ी”।

आवश्यक सामग्री :

दही
बेसन
हल्दी
नमक
मैथी
जीरा
अदरक लहसुन पेस्ट
धनिया पाउडर
मिर्च पाउडर
गरम मसाला
हींग
तेल
करी पत्ता
घी
राई


विधि :
1. बेसन में थोड़ा पानी डाल के गाढ़ा घोल बनाये।
2. नमक, मीर्च और हींग डाल अच्छे से मिलायें।
3. गैस पर कढ़ाई चढ़ायें , उसमे तेल डालकर गरम करें।
4. अब बेसन वाले मिश्रण को छोटी छोटी पकोड़ी के आकार में कढ़ाई में डालें और तलें। जब सारी पकोड़ी हलके ब्राउन रंग का हो जाए तो पकोड़ियों को बाहर निकाल लें।
5. अब एक बरतन में दही को पूरा फेंट लें। उसके बाद उसमे बेसन डालकर तक़रीबन 1.5 लीटर पानी मिलायें।
6. गैस पर कढ़ाई में एक टेबल स्पून तेल गरम करें।
7. तेल गरम होने पर उसमें हींग, मैथी, जीरा डालें।
8.जब जीरा ब्राउन रंग का हो जाए तो उसमें अदरक-लहसुन पेस्ट और हल्दी पाउडर डाल दें।
9. इसके बाद इसमें बेसन और दही मिक्स्ड घोल डाल कर चलाये। जब तक घोल उबलने न लग जाए तब तक चलाते रहे।
10. जब घोल में उबाल आ जाए तब उसको ढ़क कर 15 मिनट तक धीमी आंच पर पकायें।
11. जब घोल थोड़ा गाढ़ा हो जाए तो इसमें सारे पकोड़े डाल दें कढ़ी को धीरे धीरे चलाते रहें।
12. कढ़ी में जैसे ही एक बार फिर से उबाल आने लग जाए तो उसमें नमक डाल दें।
13. धीमी आंच पर ही उसे तक़रीबन 10 मिनट तक पकने दें। बस ध्यान रखें कि बीच बीच में कढ़ी को चलते रहे ताकि वो कढ़ाई में न सटे।
14. जब कढ़ाई के कोने पर बेसन का मलाई दिखने लग जाए तो कढ़ी उतार कर बर्तन में निकाल लें।
15. अब किसी कलछुल में या पैन में घी गरम करें। उसमे करी पत्ता, लाल मिर्च और राई डाल कर गरम करें और इसे कढ़ी में डाल कर ढ़क दें या यूँ कहें कि इससे कढ़ी में छौक लगाएं।
16. अब आप गरमा गरम कढ़ी को चावल के साथ परोसें। कढ़ी इसी तरह पीने में स्वादिष्ट लगता है।

Loading...