विपक्षी एकजुटता को नीतीश ने फिर दिया तगड़ा झटका!

0
13

कई मसलों पर विपक्षी पार्टियों से अपनी अलग राय रखने वाले नीतीश कुमार ने एकबार फिर विपक्ष को तगड़ा झटका दिया है. जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार उप राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के चयन को लेकर बुलाई गई बैठक में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है. इसे आप महज इत्तेफाक ही कह सकते हैं कि जिस दिन उप राष्ट्रपति प्रत्याशी के चयन को लेकर दिल्ली में विपक्षी पार्टियों की बैठक होने वाली है उसी दिन यानि ग्यारह जुलाई को नीतीश कुमार ने अपने दल के विधायकों और सांसदों की एक महत्वपूर्ण बैठक पटना में बुलाई है. हालांकि कहा जा रहा है कि खराब स्वास्थ्य के चलते नीतीश कुमार सार्वजनिक कार्यक्रमों से इस समय दूर हैं, और इसलिए वो दिल्ली नहीं जा रहे हैं. लेकिन नीतीश पटना में आयोजित विधायकों की बैठक में मौजूद रहेंगे.
नीतीश कुमार के लिए इस मामले पर उठाया गया स्टैंड कोई नया नहीं है. इससे पहले भी नोटबंदी और बेनामी संपत्ति मामले में नीतीश कुमार सहयोगी पार्टियों से अलग राय रख चुके हैं. ऐसे में बड़ा सवाल विपक्षी एकता को लेकर है. राष्ट्रपति चुनाव को लेकर बिगड़ी बात बाद में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व द्वारा उठाए गए कदमों के चलते बनती हुई लग रही थी. लेकिन लालू परिवार के खिलाफ सीबीआई रेड और एफआईआर ने मामले को उलझा दिया है और नीतीश कुमार ने विपक्षी बैठकों से दूरी बना ली है.