Exclusive (वीडियो) महज़ 5 दिन में अमृतसर के स्वर्ण व्यवसायी की हत्या व लूट कांड का खुलासा,6 गिरफ्तार, देखिये कहा छुपा रखा था लूट का माल

0
45

धर्मेन्द्र कुमार रस्तोगी,ब्यूरों कोऑर्डिनेटर, छपरा

पटना Live डेस्क। विगत 24 नवम्बर को छपरा में  अमृतसर के स्वर्ण व्यवसायी की हत्या एवं लूट काण्ड   में सारण पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने महज पांच दिनों में ही इस मामले का पर्दाफ़ाश करते हुए हत्यासह लूट को अंजाम देने वाले  छह अपराधियों के साथ लुटा गया आधा किलो सोना भी बरामद कर लिया।अपराधियों के पास से पुलिस ने 78 हजार रुपये भी बरामद किया। अपराधियों के पास से पुलिस ने दो लोडेड देशी कट्टा के साथ दो बाइक एवं 10 मोबाइल बरामद कर लिया है।
मामले को गंभीरता से लेते हुए सारण के सिंघम के नाम से प्रसिद्ध एसपी हरकिशोर राय ने एसआईटी का गठन कर मामले का उद्भेदन करने में सफलता पाई।एसपी ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया की 24 नवंबर की शाम बस स्टैंड से दो स्वर्ण व्यापारियों वको गोली मारने के बाद करीब 8 सौ ग्राम सोना के साथ दो- तीन लाख की लूट की गई थी। जिसमें एक व्यवसायी की मौत हो गई थी। इस घटना को अंजाम देने के बाद तीन बाइक सवार छह लुटेरे भाग निकले थे। पुलिस ने अपराधियों के इस चैलेंज को स्वीकार किया और एसआइटी की टीम गठित की गई।
इस टीम के संयुक्त प्रयास से मामले का खुलासा किया गया। इस लूट कांड में शामिल6 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जबकि अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।
उन्होने बताया कि अपराधियों के पास से लूटे गए 78 हजार रुपये, 503 ग्राम सोना, बरामद किया गया है। इस लूट में उनके द्वारा प्रयुक्त की दो अपाची बाइक, दो देशी कट्टा एवं चार कारतूस बरामद किया गया है। उनके पास से 10 मोबाइल भी बरामद किया गया जो कि हत्या एवं लूट के दौरान उनके पास थे। जांच के क्रम में उनके काल डिटेल भी खंगाले गए जिससे मामले की तह तक पहुंचा जा सका। इस दौरान पुलिस ने नगर थाना क्षेत्र के सोनारपट्टी निवासी अमित कुमार, रोहित कुमार, कुंदन कुमार,साहेबगंज निवासी नथ्थू उर्फ प्रिंस, मोहन नगर निवासी नंदन कुमार एवं मुकेश कुमार शामिल है। एसपी ने बताया कि अमित,रोहित,प्रिंंस के पास से 50-50 ग्राम स्वर्ण आभूषण एवं कुंदन कुमार के पास से 63 ग्राम तथा शेष आभूषण मुकेश एवं नंदन के पास से बरामद किया गया है। इन दोनों के पास से ही दो कट्टा एवं चार कारतूस बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि ये दोनों का आपराधिक इतिहास रहा है, जिसे खंगाला जा रहा है। वहीं अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।                                                             काल डिटेल एवं सीसीटीवी फुटेज से खुलासा      स्वर्ण व्यवसायी से लूट के मामले में सीसीटीवी कैमरे से निकाला गया फुटेज एवं घटना स्थल के समीप के काल डिटेल काफी मददगार साबित हुए। घटना के दिन रिक्शा से जा रहे दोनों स्वर्ण व्यवसायियों के पीछे जा रहे बाइक सवार अपराधियों की तस्वीरें भी कैमरे में कैद हुई थी। इसी के सहारे पुलिस मामले की तह तक पहुंची। इस हत्या एवं लाखो की इस लूट में लाइनर के साथ स्वर्ण व्यवसायियों के स्टाफ एवं उनके कारीगर की संलिप्तता सामने आयी है।उन्होंने लूट एवं हत्या के इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया।मामले में गिरफ्तार चार अपराधी सोनारपट्टी निवासी ही है। जबकि दो अपराधी मोहन नगर निवासी शामिल है। उनके द्वारा ही अपराधियों से सांठ-गांठ कर अपराध को अंजाम दिया गया।
वही लूट एवं हत्या के जघन्य अपराध पर से पर्दा उठाने वाले पुलिस पदाधिकारियों को पुरस्कृत किया जाएगा। इस बात की जानकारी देते हुए एसपी हर किशोर राय ने बताया कि टीम में शामिल सभी पुलिस पदाधिकारियों एवं एसआईटी के सिपाहियों को उनके इस उपलब्धि के लिए पुरस्कृत किया जाएगा।

Exclusive वीडियो

पंजाब के स्वर्ण आभूषण व्यवसायी से लूट व हत्याकांड के मामले में गिरफ्तार अपराधी लूट के आभूषण को किस तरह और किस जगह छुपाकर रखे हुए थे ।शौचालय के लैट्रिन से आभूषण निकालते हुए पटना Live आपको वो एक्सक्लूसिव फुटेज  दिखा रहा है जहां अपराधियों ने अपने हिस्से के सोने को छुपाकर रखा था। जिसे गिरफ्तारी के बाद बड़ी मशक्कत से पुलिस ने बरामद किया है।