खुलासा (एक्सक्लूसिव वीडियो) – पटना में मोबाईल पर वायरल मैसेज को लेकर शुरू हुए विवाद में हत्या, त्वरित कार्यवाई कर पुलिस ने 2 अपराधियों को 2 कट्टा संग दबोचा

पटना Live डेस्क। क्या आप ये सोच सकते है कि मोबाइल पर भेजे गए महज एक मैसेज किसी की जान ले सकता है ? नही न लेकिन ये सच है। राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ में महज मोबाईल पर वायरल हो रहे एक मैसेज के झगडे ने शुक्रवार की शाम खुनी शक्ल अख़्तियार कर लिया। थाना क्षेत्र के नोहसा और नवादा गाँव के लडको में विगत कई दिनो से मोबाईल पर गाली गलौज से भरे मैसेज वायरल हो रहे थे। इसी विवाद में छोटे भाई के झगडे को सुलझाने गये सगे बडे भाई को बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार कर मौत की नींद सुला दिया और हत्याकांड को अंजाम देने के बाद करीब आठ से दस की संख्या मे रहे लड़को का दल बाइक पर सवार होकर वाल्मी की ओर फरार हो गये।

इस हत्या का चश्मदीद मृतक का छोटा भाई इंतेशार के शोर मचाने के बाद नोह्सा के लोग घटनास्थल  की ओर  दौड़े।सरे शाम हत्या की वारदात के बाद लोगों मे अफरा तफरी मच गयी और दुकानो का शटर बंद होने लगा । आनन फानन लोगों ने घायल युवक को पीएम सीएच लेगये जहां डाक्टरो ने मृत घोषित कर दिया । युवक की मौत की जानकारी मिलते ही लोग उग्र हो गयेऔर एनएच 98 पर जम कर बवाल काटते हुये आगजनी कारने लगे। सडक जाम कर दिया स्थानीय नोह्सा मोड़ के उस चौमिन दूकान को सडक पर लाकर फूंक दिया। इतना ही नही बवाल कर रहे लोगों ने आस पास के दर्जनों घरों पर पथराव कर मामले को दूसरा रूप देने की कोशिश करने लगे। बवाल  की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस पर लोगों ने पथराव करने लगे।

हालात को काबू करने के लिए सिटी एसपी सेन्ट्रल अमरकेश डी , सिटी एसपी वेस्ट रविन्द्र कुमार , एडिशनल एसपी राकेश कुमार दुबे ,विधि वयवस्था डीएसपी शिबली मोहम्मद नोमानी , थानेदार धर्म्नेद्र कुमार , जानीपुर थानेदार मोहन प्रसाद , खगौल थानेदार संजय पाण्डेय , दानापुर थानेदार रंजित कुमार कई थानों की पुलिस ,वज्र वाहन और भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ पहुचे।एडिशनल एसपी राकेश दुबे ने बताया की एक युवक की हत्या के बाद लोग उग्र हो गये पुलिस हत्यारों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

नोह्सा निवासी ऑटो चालाक मिन्हाजुद्दीन के बेटे इन्तेशार का बगल के गाँव नवादा के लडको से मोबाईल पर मैसेज वार हुआ था | इसी मैसेज वार के झगडे को सुलझाने गये इंतेशार के बड़े बाई आरजू रजा (उम्र 28 वर्ष )को युवकों ने गोली मार हत्या कर दी | स्थानीय लोगों की माने तो शुक्रवार की शाम इस झगडे को लेकर ही इन्तेशार को दुसरे गुट के लडको में कॉल कर नोह्सा मोड़ बुलाया | इसके बाद दोनों गुट के झगडे को सुलझा भी लिया गया | इसी दौरान  नोह्सा मोड़ के पास चौमिन की दूकान पर जमा युवको ने आरजू रजा के सर में गोली मारी दी | गोली लगते ही आरजू वहीँ गिरकर तड़पने लगा | बड़े भाई को गोली लगते ही वहां मौजूद छोटा भाई इन्तेशार शोर मचाने लगा | जबतक लोग वहां पहुँचते तबतक सभी बदमाश वाल्मी की ओर बाईक से ही भाग गये | इसके बाद नोह्सा के ग्रामीणों ने पटना से औरंगाबाद जा रही नेशनल हांईवे 98 को जाम कर बवाल करना शुरू कर दिया | चौमिन की दूकान को आक्रोशित लोगों ने फूंक डाला | कई घरों में पथराव कर दिया | जिससे वहां अफरा तफरी मच गयी | इस बीच परिजनों ने चित्नाजनक हालत में आरजू को पीएमसीएच ले गये जहाँ उसे चिकित्सको ने मृत घोषित कर दिया | इसकी खबर नोह्सा  पहुँचते ही प्रदर्शन कर रहे लोग और भी उग्र हो गये | पुलिस इस हत्त्याकाण्ड में मृतक के छोटे भाई इंतेशार का व्यान के इन्तेजार कर रही थी | मृतक पांच भाईयो में सबसे बड़ा था | मृतक हाल ही में सऊदी से आया था | विदेश में जेसीबी चलाने का काम करता था | पिता ऑटो चालक मिन्हाजुद्दीन , माँ अमीना और उसकी तीन बहनों का रो रो कर बुरा हाल हो रहा था |

सिटी एसपी वेस्ट रविन्द्र कुमार ने बताया की युवकों के दो गुटों के आपसी विवाद में एक युवक की हत्या हुयी है | पुलिस अपराधियों की जल्द गिरफ्तार करेगी और पुरे मामले का खुलासा किया जायेगा |