बड़ी खबर – लालू की बड़ी बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश की मुश्किलें बढ़ी, 5 मार्च को मनीलांड्रिंग मामले कोर्ट में हाजिर होने का आदेश

0
7

पटना Live डेस्क। राजद सुप्रीमो लालू यादव के परिवार पर कानूनी संकट कम होने के नाम ही नही ले रहा है।एक ओर जहां चारा घोटाले में सज़ावार होकर लालू खुद रांची स्थित बिरसा मुंडा जेल में कैद है। वही दूसरी तरफ राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती, दामाद शैलेश कुमार समेत अन्य के खिलाफ दिल्ली के पटियाला कोर्ट में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा मनी लाउंड्रिंग के मामले में दायर आरोप पत्र पर अदालत ने लालू प्रसाद की बेटी और दामाद को समन जारी किया है। 8000 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग केस मामले में सीबीआई की अदालत ने मीसा भारती और शैलेश को 05 मार्च, 2018 को हाजिर होने का आदेश दिया है। मनी लॉन्ड्रिंग मामले के आरोपी इन दोनों के खिलाफ गुरूवार को कोर्ट ने आरोप पत्र पर संज्ञान लिया है और दोनों को पांच मार्च को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया है। कोर्ट के इस आदेश के बाद मीसा और शैलेश की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। इस केस के एक अन्य आरोपी संतोष शाह का नाम भी आया है और उसे भी कोर्ट ने समन जारी कर पेश होने का आदेश दिया है ।
इसके बाद राजद के बड़बोले नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि हम इस कानूनी लड़ाई को जारी रखेंगे और विपक्ष की साजिश को किसी भी सूरत में सफल नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि लालू के पूरे परिवार को फंसाया गया है और उन्हें परेेशान किया जा रहा है।बता दें कि मीसा भारती और उनके पति शैलेष कुमार के खिलाफ ईडी ने दिल्ली के पटियाला हाइकोर्ट में मनी लांड्रिंग के केस में चार्जशीट दायर किया था और उससे पहले जांच टीम ने दोनों पर कार्रवाई करते हुए उनके कई ठिकानों पर छापेमारी की थी।

इससे पहले एक हजार करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति की जांच कर रही ईडी ने मीसा के दिल्ली समेत दूसरी जगहों पर संपत्ति के तीन ठिकानों पर छापेमारी की थी। बाद में मीसा अपने पति के साथ आयकर विभाग के सामने पेश भी हुई थीं और इस मामले में ईडी ने दिल्ली की पटियाला कोर्ट में चार्जशीट दाखिल किया था।सितंबर महीने में ईडी ने मीसा भारती के दिल्ली के बिजवासन स्थित फार्म हाउस को भी जब्त कर लिया था। यह फार्म हाउस मीसा भारती और उनके पति शैलेश के नाम पर है। इस मामले में पूछताछ के बाद मीसा और शैलेश के जवाबों से संतुष्ट नहीं होने पर ही ईडी ने फार्म हाउस जब्त किया था।     इस मामले में ईडी का आरोप है कि यह मीसा और शैलेष का बिजवासन स्थित फार्म हाउस शेल कंपनियों के जरिए आए रुपयों से खरीदा गया था। आरोप में यह कहा था कि चार शेल कंपनियों के जरिए आए 1 करोड़ 20 लाख रुपये से ही इस प्रॉपर्टी को खरीदा गया था। मीसा के पास यह पैसा तब आया था जब उनके पिता लालू प्रसाद यादव रेलमंत्री थे।

 

 

Loading...