Big News (वीडियो) शर्मनाक! विक्षिप्त युवती को छपरा अल्पवास में सुरक्षा कर्मी बना रहा अपनी हवस का शिकार, संचालिका और गार्ड गिरफ़्तार

102

धर्मेंद्र कुमार रस्तोगी, ब्यूरो कोर्डिनेटर, छपरा

पटना Live डेस्क। प्रमंडलीय मुख्यालय सारण के छपरा स्थित महिला अल्पावास गृह में विक्षिप्त युवती के साथ सुरक्षा कर्मी द्वारा यौन शोषण का मामला सामने आया है जांच के दौरान मामला सही पाए जाने के बाद प्रबंधक सहित सुरक्षाकर्मी को स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।महिला अल्पावास गृह में एक मानसिक रूप से अर्ध्द विक्षिप्त युवती का यौन शोषण जैसी घिनौनी करतूत शनिवार को सामने आयी है इस मामले में पुलिस ने सुरक्षा गार्ड व संचालिका को गिरफ्तार कर लिया गया है।इस घटना के बाद महिला अल्पावास गृह को बंद कर दिया गया है और यहां रहने वाली 26 पीड़ित महिलाओं को सीवान महिला अल्पावास गृह में स्थानांतरित कर दिया गया है।
पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने बताया कि महिला अल्पावास गृह के परियोजना प्रबंधक मोहन प्रसाद की शिकायत पर नामजद प्राथमिकी नगर थाना में दर्ज की गयी है.उन्होंने बताया कि इस मामले में गार्ड राम स्वरूप पंडित तथा संचालिका कुमारी सरोज को गिरफ्तार कर लिया गया है।23 वर्षीय अर्ध्य विक्षिप्त युवती इसुआपुर थाना क्षेत्र की रहने वाली है जो विगत 6 फरवरी 2018 को मेडिकल जांच के बाद ही अल्पावास गृह में रखी गई थी। नियमित मेडिकल जांच के अनुसार 3 माह बाद 28 मई 2018 को मेडिकल चेक अप हुआ तो रिपोर्ट में युवती के गर्भवती होने की रिपोर्ट सामने आयी थी।जिला परियोजना प्रबंधक मनमोहन प्रसाद ने राज्य मुख्यालय को इस मामले की जानकारी दी थी उसके बाद पटना से महिला निगम की उच्च स्तरीय एक टीम ने अल्पावास गृह पहुंच कर युवती का बयान लिया था युवती ने टीम के सदस्यों को बताया तो गार्ड से भी पूछताछ की गई।                               पटना से आई जांच टीम को पीड़ित युवती ने यह भी बताई की गार्ड द्वारा मुझे दवा भी दी गई थी युवती की बातों से संतुष्ट होने के बाद टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट वरीय  पदाधिकारियों को दी थी। रिपोर्ट मिलने के बाद डीएम सुब्रत कुमार सेन ने अल्पावास गृह का संचालन बंद कर दिया और सभी पीड़ित महिलाओं को सिवान स्थित अल्पावास गृह में स्थानांतरित  कर दिया गया है।

                      एसपी के आदेश के बाद पुलिस ने शनिवार की रात छापेमारी कर प्रशिक्षण सह पुनर्वास पदाधिकारी कुमारी सरोज और गार्ड रामस्वरूप पंडित को हिरासत में लेकर पूछताछ किया जा रहा है।पुनर्वास पदाधिकारी पर कर्तव्य में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया गया है गार्ड को यौन शोषण के लिए प्रथम दृष्टया दोषी मानते हुए गिरफ्तार कर लिया गया है और पूछताछ की जा रही है।महिला अल्पावास गृह के संचालन करने वाली एनजीओ नारी उत्थान केन्द्र सैदपुर दिघवारा के सचिव रणधीर कुमार सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।