बिहार सरकार के मंत्री से रंगदारी मांगने के आरोप में एक गिरफ्तार,मुख्य आरोपी अब भी पकड़ से बाहर

0
35

शक़ील अहमद,संवाददाता, चंपारण

पटना Live डेस्क। बिहार के बेतिया पुलिस ने राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री खुर्शीद आलम से एक लाख रुपये की रंगदारी मांगने के मामले का खुलासा कर लिया है। पुलिस ने मामले का पटाक्षेप करते हुए रंगदारी मांगने के मुख्य आरोपी को सहयोग करने के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार किया है।
हालांकि अभी तक मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर है और वह फरार चल रहा है।गिरफ्तार किए गए युवक की पहचान इनरवा थाना क्षेत्र के पिड़ारी निवासी आजाद आलम के रूप में की गयी है। आजाद आलम पिड़ारी बाजार में मोबाइल की दुकान पर मिस्त्री का काम करता है उसने अपना मोबाइल फोन पिड़ारी निवासी रफाक मियां को दिया था।जिसने उस फोन में अपना सीम लगाकर मंत्री से रंगदारी मांगी थी।
पुलिस रफाक मियां को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी कर रही है। यहां बता दें कि 10 दिसम्बर को मंत्री से एक लाख की रंगदारी मांगी गयी थी जिसको लेकर मंत्री ने पुरोषोत्तमपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी थी।मंत्री ने अपनी शिकायत में कहा था कि कॉल करने वाले ने खुद की पहचान निकटवर्ती वन क्षेत्र गोवर्धन के इम्तियाज के तौर पर बतायी है।वही, आलम ने जोर देकर कहा था कि राज्य की कानून और व्यवस्था में उनका पूरा भरोसा है।बिहार में सुशासन है और वह भयभीत नहीं हैं।