Breaking (वीडियो) पटना के नौबतपुर में एक व्यक्ति को दिनदहाड़े सरेआम मारी गई ताबड़तोड़ 4 गोलिया,मौत विरोध में सड़क जाम

706

पटना Live डेस्क। राजधानी  पटना के नौबतपुर में अहले सुबह एक व्यक्ति को बाईक सवार अपराधियों ने गोलियों से छलनी कर हत्या कर दी और हथियार लहराते आराम से फरार हो गए। नौबतपुर लख पर ब्लॉक के पास दिन दहाड़े हत्या की वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई और बाजार में खुल रही दुकाने धड़ाधड़ बन्द होने लगी। भारी अफरा तफरी के बीच जबतक लोग समझ पाते तबतक एक व्यक्ति को खून से लतपथ देखा। घटना स्थल पर जमा लोगों की भीड़ में से किसी ने उसकी पहचान अभरनचक के भुनेश्वर राम के रूप में किया। मृतक किसान बताया जा रहा है।
हाल के दिनों में लगातार नौबतपुर में हत्त्यारे हत्त्या की वारदात को बेखौफ अंजाम देकर निकल जा रहे हैं। पुलिस एक हत्या की गुत्थी सुलझा भी नही पाती है जबतक दूसरी हत्या की वारदात हो जा रही है। दवा दुकानदार दीपक की हत्या हो या फिर शहर रामपुर में मिठाई दुकानदार शिव शम्भू की हत्या अपराधी लगातार पुलिस पर भारी पड़ते जा रहे हैं ।
लख के नजदीक ब्लॉक के पास भुवनेश्वर राम को अपराधियों ने भून डाला और एक बार फिर आराम से निकल भागने में कामयाब हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस हत्यारों के भागने की दिशा में छापेमारी करनी शुरू कर दिया है। वही घटना का कारण अभी स्पष्ट नही हो पाया है।पुलिस घटना कल लेकर छानबीन में जुट गई है। भुवनेश्वर राम के शरीर मे चार गोली मार जाने की बात कही जा रही है। भुवनेश्वर राम की हत्या को लोग इसी के के गाँव निवासी किसान अजय सिंह की हत्या से जोड़कर देख रहे हैं। पूर्व में अभरन चक निवासी किसान अजय सिंह की हत्या भी हो चुकी है । अजय सिंह की हत्या में भकनेश्वर राम की क्या भूमिका थी,यह तो पुलिसिया छानबीन के बाद ही पता चल पाएगा। बहरहाल पुलिस ने डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजने और अपराधियों की धड़पकड़ के लिए छापेमारी तेज कर दिया है।

नौबतपुर में हत्या के बाद सड़क जाम

सुबह सवेरे नौबतपुर में अभरन चक निवासी बुजुर्ग  भुवनेश्वर राम की हत्या से इलाके में लोग आक्रोशित होकर सड़क पर उतर पड़े। हत्या के खिलाफ नौबतपुर लख पुल को मृतक के परिजनों व ग्रामीणों ने जाम कर दिया। शव के साथ ही जाम लगाए लोग  हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी की मांग करने लगे। लख पुल जाम से नौबतपुर-मसौढ़ी एवं पटना सोन नहर मार्ग पर वाहनों का परिचालन ठप हो गया। पुलिस अधिकारी आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझा कर जन जीवन सामान्य कराने में जुटे हैं। शव को बीच सड़क पर रखकर ही परिजन दहाड़ मारकर विलाप करने लगे ।
चर्चा है कि  नौबतपुर प्रखंड मुख्यालय के सामने बाइक सवार तीन बदमाशों ने भुवनेश्वर राम को उस वक्त गोलियों से भून डाला जब वे  दूध पहुंचाने पैदल ही जा रहे थे। अभरन चक गांव के ही किसान अंजय सिंह की छह माह पूर्व हुई हत्या के प्रतिशोध में ही भवनेश्वर राम की  हत्या की बात सामने आ रही है । हत्या के कारणों के पीछे रुपये-पैसे का लेन देन का विवाद व अंजय सिंह की हत्या में लाइनर की भूमिका अदा करने की बात भी छन कर  आ रही. हत्या के बाद इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है । कब किसकी और कहां हत्या हो जाये कहा नही जा सकता है।