Super Exclusive (वीडियो) पटना पुलिस की वसूली का Live वीडियो देखिए, एक थानेदार की करतूतों का खुलासा करती बुजुर्ग महिला और उसकी बहु को सुनिए

1
1168

बृजभूषण कुमार, ब्यूरो प्रमुख, पटना सिटी

पटना Live डेस्क। राजधानी में कुछ पुलिसकर्मियों की अवैध वसूली के कारण पटना पुलिस की छवि दिन ब दिन ख़राब तो हो ही रही है, बदनाम की परत लगातार मोटीहो रही है। ताजा मामला है पटना सिटी के मालसलामी थाने का जहा वसूली की तस्वीरें कैमरे में कैद हो गई है। सूत्रों से मिली जानकारी की अनुसार मालसलामी थाना अध्यक्ष के इशारे पर वसूली का खेल जारी है। इस बेधड़क वसूली का बड़ा हिस्सा थानाध्यक्ष को जाता है। ट्रैकर हो या ट्रक या फिर बड़े वाहन सभी से पुलिसकर्मी बेख़ौफ़ हो कर वसूली करते है, लेकिन इनपर कोई करवाई नहीं होती है।
हद तो ये की मालसलामी थाने में शराबी हो या फिर जुआरी हो पकडे जाने पर उनसे मोटी रकम लेकर थाने से ही छोड़ दिया जाता है। साथ ही जमीन का मामला हो जो पक्ष रूपये देता है उसका काम थाना के पुलिस खड़ा हो कर करते है, चाहे वो गैरकानूनी क्यों न हो। थाने पर अक्सर दलालो की मंडी सजी रहती है और पुलिस की उगाही का खेल चलता रहता है। ये तमाम बातें थाना से पीड़ित लोगों ने एकसुर में बताई है।
कई पीड़ितो ने मालसलामी थानाध्यक्ष के खिलाफ पुलिस महकमे के तमाम वरीय अधिकारी के यहाँ आवेदन भी दे चुके है। लेकिन वसूली का खेल बदस्तूर जारी है।
लेकिन कहते है न आखिरकार हर जुर्म का अंत होता ही इसी ज़ज़्बे से लबरेज मालसलामी थाने से प्रताड़ित और पीड़िता कामनी देवी ने अब थानेदार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। दरअसल, पड़ोसी उमेश यादव की दबंगई और गुंडागर्दी से तंग आकर अपनी बुजुर्ग साँस कामनी देवी के साथ थाने पर मामला दर्ज कराने के बाद पिछले 4 महिने से मालसलामी थाना पुलिस की दवंगई से डरे सहमे हुए है। लेकिन जब सब्र का बांध टूटा तो पहले तो भ्रष्ट पुलिसवालो के खिलाफ सभी प्रशासनिक अधिकारियो के यहां आवेदन दिया पर जब वहां से भी बात नही बनी तो फिर ऐसे में भ्रष्ट पुलिस वालो पर करवाई करने की मांग करते हुए जंग का आगाज़ करते हुए मालसलामी थानेदार का कच्चा चिट्ठा खोलने का मन बना लिया है।