बड़ी खबर – थानेदार ने जान पर खेलकर फायरिंग और उठापटक के बाद चौकीदार संग कुख्यात साइको किलर श्याम सुंदर को मय हथियार दबोचा

0
146

पटना Live डेस्क। पटना जिले के टॉप टेन अपराधियों में शुमार कुख्यात साइको किलर और अबतक 6 बार पुलिस पर हमला करने वाला मोकामा के कुख्यात श्याम सुंदर यादव को मुठभेड़ के बाद पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अपराधी श्याम सुंदर को मोकामा के बड़ापुर में एक घर में घेर लिया। अपने को घिरता देख इस बेहद दुःसाहसी अपराधी ने एक बार फिर से मोकामा के थानेदार कैसर आलम के साथ रहे चौकीदार शैलेंद्र उर्फ भट्टी पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। हालांकि दोनों ने कला बाजियां खाते हुए खुद को बाल-बाल बचा लिया। थानेदार और चौकीदार ने जान को जोखिम में डालकर उसे गिरफ्तार कर लिया। कन्हाईपुर के रहनेवाले श्याम सुंदर के पास से पुलिस ने एक देसी कट्‌टा,आठ कारतूस और गांजा आदि बरामद किया है। पुलिस उसे साथ लेकर इलाके में छापेमारी करने में जुटी है। उसके पास कई अत्याधुनिक हथियार हैं। एसएसपी मनु महाराज ने कहा श्याम सुंदर पर सीसीए लगाने का प्रस्ताव भेजा जाएगा।
पटना पुलिस के लिए सिरदर्द बना कुख्यात साइको अपराधी श्याम सुंदर आखिर थानेदार और चौकीदार शैलेंदर पासवान उर्फ भट्टी की जांबाजी से हत्थे चढ़ गया। मोकामा के बरहपुर में शनिवार की अहले सुबह एक पूर्व मुखिया के दलान पर कुख्यात के टिके होने की सूचना चौकीदार को मिली तो फौरन थानेदार को यह जानकारी दी।अहले सुबह मिली इस बेहद अहम जानकारी पर त्वरित एक्शन मोड में एसएचओ मोकामा ने चौकीदार को निश्चित दूरी से कुख्यात पर नज़र बनाये रखने को कह फौरन थाने से सादे लिबास में बरहपुर गांव की ओर कूच कर गए। वही चौकीदार भी कुख्यात पर नज़रे जमाये बैठा था। दोनो ने मिलकर कुख्यात को पकड ने ख़ातिर पूर्व मुखिया के घर की ओर कदम बढ़ाया ही था कि इस बीच बेहद शातिर सुंदर मौके से भागने लगा और फिर थानेदार कैसर आलम और चौकीदार पर फायरिंग कर दी लेकिन पिछले 2 बार से मुठभेड़ के दौरान भाग निकलने में कामयाब रहे कुख्यात को जान की बाजी लगा कर मोकाम एसएचओ ने खदेड़ा खदेड के बावजूद हथियार बंद श्याम सुंदर को दबोच लिया फिर भी साइको किलर श्याम सुंदर तक़रीबन 10 मिनटों तक उठा-पटक तक थानेदार कैसर आलम के गिरफ्तर से निकलने की ताबड़तोड़ कोशिश करता रहा इस दौरान थानेदार उसे दबोचे रहे और चौकीदार भी पकड़े रहा। तबतक थाने से दारोगा सुबोध कुमार व अन्य पुलिस कर्मी मौके पर पहुंच गये और कुख्यात को पकड़ कर थाने लाया गया।   श्यामसुंदर ने एक सप्ताह पहले सगी विधवा चाची दुलरिया देवी की जमीन के लिए हत्या कर दी थी।यही नहीं उसपर मोकामा, पंडारक,मोकामा रेल थाना,सुखदेवनगर रांची,रेल थाना, बोकारो में हत्या,लूट, डकैती, रंगदारी, रेप समेत तीन दर्जन संगीन मामले दर्ज हैं।श्याम सुंदर को इससे पहले भी पुलिस ने चार बार गिरफ्तार कर जेल भेजा है। छह माह पहले ही वह जेल से छूटा है। पिछले दस साल से इलाका उसके आतंक से दहशजदा रहा है। जेल से निकलने के बाद उसने अपराध का तरीका बदल दिया था। वह इन दिनोें घोड़े पर सवार होकर अपने गुर्गों के साथ वारदात को अंजाम देता था।