क्या कांग्रेस में होगी टूट? ललन सिंह की सदानंद सिंह के साथ हुई बैठक के बाद मामले ने पकड़ा जोर

18

पटना Live डेस्क. बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई में ऩई सरकार के गठन के बाद से ही राजद और कांग्रेस के विधायकों में फूट की बात लगातार चर्चा में है. यह बात तब और जोर पकड़ने लगी जब कांग्रेस से वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह से जेडीयू नेता और मंत्री ललन सिंह ने मुलाकात की. इस बैठक के बाद कांग्रेस के विधायकों में फूट की चर्चा ने जोर पकड़ लिया. सदानंद सिंह ने इस मुलाकात की पुष्टि की है लेकिन इस बातचीत को महज कामकाज के संदर्भ में की गयी मुलाकात बताया है. उधर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने पार्टी में किसी भी तरह की फूट से साफ इऩकार किया है और इसे मीडिया की फैलाई अफवाह बताया है. जानकारी के अनुसार जदयू के वरिष्ठ नेता और सरकार में जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने सोमवार को कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह से मुलाकात की. इसके बाद से कांग्रेस की टूट की अटकलों का बाजार गर्म हो गया है.  राजनीतिक गलियारे में चर्चा है कि कांग्रेस के कुछ विधायक जदयू के संपर्क में हैं. कांग्रेस में जल्द ही टूट हो सकती है.

कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने बैठक के बाद कहा कि ललन सिंह से उनकी मुलाकात भागलपुर से जुड़ी एक नहर योजना के बारे में बात करने के लिए हुई थी. सदानंद सिंह ने बताया कि जब वे जगन्नाथ मिश्र के मुख्यमंत्री काल में सिंचाई मंत्री थे, तब उन्होंने बटेश्वर स्थान गंगा पंपिंग योजना की आधारशिला रखी थी. जो कि अब 37 वर्ष के बाद तैयार हो गई है. उन्होंने बताया कि ललन सिंह ने योजना के उद्घाटन के संबंध में उनका पक्ष जानने के लिए मुलाकात की थी. इस मुलाकात को बेवजह राजनीतिक रंग देने की कोशिश की जा रही है. कांग्रेस अटूट है.

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. अशोक चौधरी ने भी पार्टी का पक्ष रखा और कहा जो लोग कांग्रेस के टूटने की बात कह रहे हैं, उन्हें राजनीति की समझ तक नहीं. यह पूरा टीआरपी का मामला है. कुछ टीवी चैनल अपना टीआरपी बढ़ाने के लिए इस प्रकार की साजिश करते रहते हैं. उन्होंने कांग्रेस में टूट की बात को सिरे से खारिज कर दिया.