शिवहर: जवाहर नवोदय विद्यालय बना मारपीट का मैदान,शिक्षकों और छात्रों के बीच जमकर मारपीट,एक दर्जन छात्र और शिक्षक घायल

131

मनीष नन्दन सिंह/शिवहर

पटना Live डेस्क. शिवहर जिले के बिसाही का जवाहर नवोदय विद्यालय छात्रों और शिक्षकों के बीच रणक्षेत्र बन गया…जहां छात्रों और शिक्षकों के बीच जमकर मारपीट हुई…मारपीट की इस घटना में एक दर्जन शिक्षक और कई बच्चे बुरी तरह घायल हो गए.. जिसका इलाज सदर अस्पताल शिवहर में चल रहा है..घटना के बारे में जानकारी देते हुए छात्रों ने स्कूल प्रबंधन पर मनमानी का आरोप लगाय..छात्रों ने बताया स्कूल प्रबंधन अपने मन से एसेंबली और लंच के लिए घोषित समय में कटौती कर दी है…छात्रों के मुताबिक पहले सुबह 9 बजे एसेंबली होती थी..लेकिन पिछले प्रिंसिपल चंद्रशेखर रेड्डी के तबादला होने के बाद प्रभारी प्रिंसिपल अरविंद कुमार यादव के द्वारा अब सुबह 7 बजे एसेंबली कराई जाती है… जबकि दोपहर लंच 45 मिनट का होता है.. जिसे अब 30 मिनट कर दिया गया है… बच्चों ने शिक्षकों पर गंभीर आरोप लगाए और बताया कि शिक्षक अपने कमरे में शराब पीते हैं.. और गलत लोगों को विद्यालय कैंपस में बुलाकर गुटबाजी भी करते हैं.. साथ ही विद्यालय की विधि व्यवस्था और पढ़ाई की व्यवस्था पूरी रूप से चौपट हो चुकी है… छात्रों ने कहा कि विद्यालय में तीन शिक्षक सुमित कुमार, निर्भय कुमार श्रीवास्तव, सत्येंद्र कुमार विद्यालय में शराब पी रहे थे…जब स्कूली बच्चों ने विरोध किया तो शिक्षक शिवनंदन सिंह, निर्भय श्रीवास्तव,विजय आनंद कुमार,अखिलेश कुमार,अनिल कुमार ने बच्चों को दौड़ा-दौड़ाकर जमकर मारपीट की… मारपीट की इस घटना के बाद दसवीं के डरे हुए करीब तीन दर्जन छात्रों ने किसी तरह देर रात करीब एक बजे शिवहर थाने में लिखित आवेदन दिया…छात्र बताते हैं कि तीन शिक्षक स्कूल कैम्पस में ही आपस में मिलकर शराब पी रहे थे.. इसी वक्त हमलोगों ने वीडियो बना लिया.. दसवीं के एक छात्र ने यह बताया कि यह देखकर शिक्षकों ने 12 वीं क्लास के बच्चों के साथ मिलकर दसवीं के छात्रों की जमकर पिटाई कर दी और छत से नीचे फेंक दिया…जिसके कारण वो तीन घंटा तक बेहोश रहा…

उधर विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य अरविंद कुमार ने छात्रों के आरोपों को बेबुनियाद बताया है…प्रिंसिपल ने बताया कि स्कूल प्रबंधन ने एक बच्चे को मोबाइल रखने पर आपत्ति की थी और उसका मोबाइल जब्त कर लिया गया था…इसी बीच दसवीं क्लास के करीब 30 से 35 छात्रों ने मोबाइल वापस करने की जिद्द की…जिसके चलते मंगलवार को देर रात 10 बजे छात्रों की गुटबाजी को देखते हुए उनका मोबाइल वापस कर दिया गया.. इसी बीच दसवीं क्लास के कुछ बच्चों ने शिक्षक पर शराब पीने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया…प्रिंसिपल ने बताया कि इसी बीच बच्चों ने स्कूल कैंपस के गमले को तोड़ दिया और पत्थरबाजी की जिसके चलते डाइनिंग हॉल के शीशा और स्कूल गाड़ी का पीछे का शीशा टूट गया… साथ ही छात्रों ने स्टाफ क्वार्टर में दो शिक्षकों के कमरे पर पत्थरबाजी भी की… जिससे कमरे का शीशा टूट गया…उधर पुलिस ने कहा है कि बच्चो के आवेदन पर जांच चल रही है और जो दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी…